जेएनएन, पटियाला। कैप्टन अमरिंदर सिंह के गढ़ पटियाला में शनिवार को शिअद ने रैली की। इस दौरान पूर्व उपमुख्यमंत्री व शिअद प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने कैप्टन सरकार पर जमकर निशाना साधा। कहा कि कैप्टन प्रदेश में कानून व्यवस्था बनाए रखने में पूरी तरह विफल साबित हुए हैं। रैली में पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया सहित पार्टी के दिग्गज नेताओं ने शिरकत की। 

सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह अब तक के सबसे नाकाम मुख्यमंत्री साबित हुए हैं। उनकी बुरी कारगुजारी कांग्रेस को भी अगले पच्चीस साल तक डुबाकर रखेगी। धरने दौरान कैप्टन सुखबीर सिंह बादल ने कैप्टन अमरिंदर सिंह, कांग्रेस के विधायक और मंत्रियों के साथ - साथ अधिकारियों पर भी निशाना साधा। 

सुखबीर ने कहा कि कैप्टन राज में अफसरशाही भी बेलगाम हो गई है। सुखबीर ने अफसरशाही को चेतावनी दी कि उनकी सरकार आने पर गलत काम करन वाले अफसरों के खिलाफ उनके थानों में केस दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि अकाली दल की सरकार आने पर विशेष टीमों का गठन करके झूठे पर्चे दर्ज करने वाले पुलिस अफसरों की पड़ताल करवाई जाएगी। दोषी पाए जाने वाले को नौकरियों से डिसमिस किया जाएगा।

सुखबीर बादल इससे पहले गुरदासपुर में दलबीर मर्डर केस मामले में भी अफसरशाही पर निशाना साध चुके हैं।उन्होंने सरेआम गुरदासपुर के एसएसपी को ललकारते हुए कहा था कि जिस दिन मेरी सरकार बनी तो सबसे पहले घुम्मण की जांच होगी। जांच में पता लगाया जाएगा कि कितने बेकसूर लोगों के खिलाफ झूठे पर्चें किए। कितने शिअद के वर्करों को बिना वजह जेल में भेजा गया। इन सबका काला चिट्ठा जनता के समक्ष खोला जाएगा। ये मत सोचना कि दो साल बाद वह रिटायर हो जाएंगे तो उसे छोड़ दिया जाएगा। कानून के हाथ लंबे है। गुनाहगारों का साथ देने वाला कानून का रखवाला भी गुनाहगार होता है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!