कोमल सिगला, समाना (पटियाला)

करीब दो दशक से समाना हलका इंजीनियरिग कालेज का इंतजार कर रहा है। हाल ये है कि 20 साल पहले रखा गया प्रोजेक्ट शिलान्यास से आगे नहीं बढ़ सका है। शहर की मुख्य इंजीनियरिग कालेज की मांग को देखते हुए कैप्टन अमरिदर की साल 2002-2007 की सरकार के दौरान वर्ष 2006 में तत्कालीन वित्त मंत्री सुरिदर सिगला ने सांसद परनीत कौर के साथ समाना के पब्लिक कालेज में राजमाता मोहिदर कौर के नाम पर प्रोजेक्ट का शिलान्यास रखा था, लेकिन प्रोजेक्ट का स्टेट्स आज भी वही है जो शिलान्यास रखने के समय था। इसका नुकसान समाना के लोगों तथा उनके बच्चों को हो रहा है।

इसके बाद सरकार आने पर अकाली दल की तरफ से इस प्रोजेक्ट की ओर ध्यान नहीं दिया गया और 10 वर्ष बीत जाने के बावजूद मौजूदा कांग्रेस सरकार आने के बाद भी वह फंड जारी नहीं किया गया। जिससे समाना के अभिभावकों को अपने बच्चों को इंजीनियरिग की पढ़ाई कराने के लिए दूसरे शहरों जैसे पटियाला, चंडीगढ़, मोहाली तथा अन्य शहरों में भेजना पड़ता है। जिससे उनके बच्चों को दूसरे शहरों में जाने में समय तथा पैसा ज्यादा खर्च होता है, वहीं काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। क्या कहना है इलाके के लोगों का

समाना निवासी अजय ने बताया कि वह पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला में इंजीनियरिग कर रहे हैं, जिसके लिए रोजाना उन्हें एक घंटे का सफर तय करके समाना से पटियाला आना पड़ता है। उन्होंने कहा कि अगर उनके शहर में ही इंजीनियरिग कालेज होता तो उन्हें रोजाना सफर करके पटियाला न जाना पड़ता। समाना निवासी अंकुर ने कहा कि अगर समाना में अन्य कोर्सेज के साथ इंजीनियरिग भी शुरू हो जाती है तो आसपास के इलाके के बच्चे बड़े शहरों में जाने के बजाय समाना में आएंगे। इससे जहां बच्चों का आसानी होगी वहीं समाना में व्यापार भी बढ़ेगा, जिससे व्यापारियों को फायदा मिलेगा और इलाके का विकास हो सकेगा। इलाका निवासियों की मांग के अनुसार मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पब्लिक कालेज को सरकारी कालेज अनाउंस कर चुके हैं, तथा कुछ ही समय में इसकी नोटिफिकेशन पूरी होने पर अगली सरकार में वह इसे इंजीनियरिग कालेज का कार्य भी जरूर पूरा करवाएंगे और जनता के वादों पर खरा उतरेंगे।

काका राजिंदर सिंह, विधायक

अगर जनता आप को मौका दे, तो वह इंजीनियरिग कालेज के साथ-साथ शहर के सरकारी स्कूलों को माडर्न स्कूलों में बदल देंगे। जिससे लोगों को भारी भरकम प्राइवेट स्कूलों की फीस की जगह सरकारी स्कूलों में मुफ्त और अच्छी पढ़ाई मिलेगी। जनता बस उन्हें एक मौका दे दे।

चेतन सिंह, आप प्रत्याशी

Edited By: Jagran