जागरण संवाददाता, पटियाला : श्रीरामलीला मैदान राघोमाजरा में सातवीं रात्रि के कार्यक्रम का प्रथम दृश्य अशोक वाटिका का प्रस्तुत किया गया। अशोक वाटिका मे रावण सीता जी को प्रताड़ित करता है लेकिन जवाब में सीता जी रावण को धिक्कारते हुए पतिव्रत धर्म पर अडिग रहती हैं। हनुमान छिपकर ये सब देखते हैं। रावण के जाने के बाद सीता जी से भेंट करते हैं और सीता जी को तुरंत ले जाने का प्रस्ताव रखते हैं। सीता जी हनुमान आशीर्वाद देकर समय का इंतजार करने के लिए कहती हैं। इसके बाद हनुमान अशोक वाटिका मे उधम मचाकर वाटिका को नष्ट कर देते हैं। इसके बाद मेघनाद को भेजा जाता है जो ब्रह्मपाश से हनुमान जी को बंदी बनाकर रावण के दरबार मे पेश करते हैं। हनुमान के रूप मे सुमंत मौदगिल, रावण के रोल मे राकेश शर्मा, मेघनाद के रूप मे आशु व सीता जी के रोल मे राज कुमार गौतम ने सुंदर अभिनय किया। अगले दृश्य में हनुमान भगवान राम को सीता जी का विवरण सुनाते हैं और विस्तृत विचार विमर्श कर लंका पर आक्रमण कर सीता जी को वापस लाने का निर्णय किया जाता है।

Edited By: Jagran