जागरण संवाददाता:पटियाला : ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चे की अगुवाई में मुलाजिमों ने ठीकरी वाला चौक पर धरना जारी रखा। हालांकि सुबह से बारिश होती रही, के बावजूद मुलाजिम राज्य सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन करते देखे गए। इस दौरान मुलाजिमों ने सरकार के खिलाफ रोष मार्च निकाला। रोष मार्च ठीकरी वाला चौक से शुरू होकर अदालत बाजार तक पहुंचकर संपन्न हुआ। इस दौरान रोष मार्च में महिलाएं व बच्चे भी शामिल रहे।

धरने को संबोधित करते हुए मुलाजिम नेता वरिदर सिंह मोमी ने कैप्टन सरकार पर आरोप लगाते कहा कि कैप्टन सरकार समूह विभागों के ठेका मुलाजिमों को रेगुलर करने से भाग रही है। सरकार ने अपने मंत्री व विधायकों के बेटों को पक्की नौकरी दी। पर ठेका मुलाजिम व बेरोजगारों के लिए सरकार ने आज तक कुछ नहीं किया। इसके चलते मुलाजिमों में सरकार के प्रति रोष बढ़ता ही जा रहा है। उन्होंने कहा कि लंबा समय से ठेकेदारी सिस्टम में काम कर रहे कर्मचारियों को आज तक रेगुलर करने के लिए उचित कदम नहीं उठाया गया। इसके कारण मुलाजिमों को संघर्ष का रास्ता अपनाना पड़ा। उन्होंने कहा कि सरकार खजाना खाली होने का बहाना लगाकर मुलाजिमों को रेगुलर नहीं करना चाहती। मुलाजिमों में सरकार के प्रति रोष बढ़ता ही गया। उन्होंने कहा कि ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चा मुलाजिम मांगों को लेकर पिछले लंबे समय से सरकार से मुलाजिमों को रेगुलर करने की मांग करता आ रहा है। सरकार के साढ़े चार साल बीत जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। दस दौरान उन्होंने सरकार से सरकारी विभागों में काम करते ठेका प्रणाली,आउटसोर्सिंग, कंपनी इनलिस्टमेंट व विभिन्न कैटेगरी के जरिए काम करते मुलाजिमों को बिना किसी शर्त विभाग में रेगुलर किया जाए, ठेका मुलाजिमों को रेगुलर करने के लिए नए लाए गए एक्ट में समूह कैटेगरियों को शामिल करना आदि की मांग की।

Edited By: Jagran