प्रेम वर्मा, पटियाला

श्री काली देवी माता मंदिर में हुई बेअदबी की घटना के बाद गिरफ्तार आरोपित को डाक्टरों के बोर्ड की देखरेख में राजिदरा अस्पताल में रखा गया है। कोविड पाजिटिव आने की वजह से आरोपित राजदीप सिंह को वार्ड में रखा है, जहां पर उसकी काउंसिलिग की जा रही है। अकेले वार्ड में रहने के दौरान उसकी हरकतें इतनी अजीब थी कि डाक्टरों के बोर्ड ने लगातार उस पर निगरानी रखनी शुरू कर दी है। यही नहीं पुलिस गिरफ्त में रहने के दौरान भी आरोपित ने हवालात के अंदर अश्लील हरकतें तक की थी, जिस वजह से पुलिस अधिकारियों को दिमागी जांच के बारे में अदालत से मंजूरी लेनी पड़ी। राजिदरा अस्पताल के डिप्टी एमएस विनोद डंगवाल ने कहा कि आरोपित मनोरोग विशेषज्ञ विभाग के हेड की देखरेख में बने बोर्ड की निगरानी में हैं। वह आरोपित की काउंसिलिग आदि कर रहे हैं, जिसके बाद उनकी रिपोर्ट पुलिस को सौंपी जाएगी। उधर, राजदीप को कस्टडी में लेकर राजिदरा अस्पताल में दाखिल करवाने के बाद पुलिस ने उसके दोस्तों व जानकारों से पूछताछ शुरू कर दी है। आरोपित के घर से मिली दवाओं के बारे में जांच में कुछ भी ऐसा नहीं पाया गया, जिससे उसके दिमागी बीमारी के इलाज चलने के सुबूत मिल सके। ऐसे में पुलिस अस्पताल के डाक्टरों की रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

Edited By: Jagran