संसू, बस्सी पठाना : बस्सी पठाना के राम मंदिर में बने अखाड़े को खाली करवाने का मामला गरमाता जा रहा है। मंदिर कमेटी और अखाड़े में आने वाले पहलवानों के बीच चल रहे विवाद को सुलझाने के लिए दोनों पक्षों को पुलिस चौकी बुलाया गया था। लेकिन पुलिस चौकी में मामले सुलझाने के बाद बाहर निकलते ही दोनो पक्ष ने आपस में मारपीट शुरु कर दी। इस मारपीट में मंदिर के पुजारी सेवक राम, कमेटी सदस्य मारुत मलहोत्रा, मोहन लाल समेत विरोधी पक्ष के भी तीन चार लोग जख्मी हो गए। जिन्हें जख्मी हालात में सिविल अस्पताल बस्सी पठाना तथा फतेहगढ़ साहिब में दाखिल करवाया गया। यहां से प्राथमिक उपचार के बाद मंदिर पुजारी सेवक राम को बस्सी पठाना अस्पताल में भेज दिया गया है। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों पर मामला दर्ज कर लिया है।

इस झगड़े के बाद मंदिर कमेटी के लोगों ने रोष स्वरूप बस्सी पठाना के बाजार बंद करवा दिए और बस स्टैंड के पास रोड जाम कर दिया। धरना देने वाले लोगों ने अखाड़े के पहलवानों पर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए उनके पर सख्त कार्रवाई की मांग की है। दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने कार्रवाई का भरोसा देकर रोड खुलवाया। इस घटना के बारे में एसएचओ कंवरपाल सिंह ने बताया कि आज राम मंदिर कमेटी सदस्य मंदिर में चल रहे अखाड़े को खाली करवाने के लिए पुलिस चौकी आए थे तो इस दौरान अखाड़े में आने वाले पहलवानों को भी फैसले में शामिल होने के लिए बुलाया था। पुलिस ने आपसी सूझबूझ से अखाड़े की जगह तबदील करवाने में पहलवानों को राजी कर लिया था। जिससे पहलवानों ने 15 दिन का समय मांग समझौता भी कर लिया था। लेकिन पुलिस चौकी के बाहर निकले ही दोनों पक्षों में झगड़ा व मारपीट शुरु हो गई जिससे दोनों पक्षों के चार-पांच लोग जख्मी हो गए। मंदिर कमेटी के सदस्यों ने विरोधी पक्ष पर आरोप लगाए हैं कि मंदिर में अखाड़ा बंद करने की रंजिश में पहलवानों ने जानबूझकर उनसे मारपीट की है और वह पुलिस से सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे है।

अखाड़ा प्रमुख ने लगाए आरोप

अखाड़े में युवाओं को प्रशिक्षण देने वाले टिकी पहलवान ने मंदिर कमेटी द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को नकारते हुए कहा कि फैसला होने के बाद जब हम बाहर निकल रहे थे तो एक व्यक्ति ने अपना टू-व्हीलर उनके पैरों पर खड़ा कर दिया और कथित तौर पर गलत शब्दों का प्रयोग किया, जिसके चलते दोनों गुटों में झगड़ा हो गया। जिससे मंदिर का पुजारी भी चपेट में आ गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!