जागरण संवाददाता, पटियाला

स्वच्छता सर्वेक्षण को लेकर नगर निगम लोगों को स्वच्छता के लिए शहर को जागरूक कर रहा है। वहीं शहर के अस्पताल साफ-सफाई को लेकर फिसड्डी साबित हो रहे हैं। इस सर्वेक्षण को लेकर अस्पताल के प्रबंधक भी कुछ खास दिलचस्पी लेते नजर नहीं आ रहे हैं। हालांकि अस्पतालों में म्यूनिसिपल वेस्ट के लिए स्थान निर्धारित किए गए हैं, लेकिन फिर भी स्थानों पर गंदगी बिखरी आम देखी जा सकती है ।

रा¨जदरा अस्पताल की बात करें तो म्यूनिसिपल वेस्ट व बायोमेडिकल वेस्ट के लिए एमएस ऑफिस से आगे डॉक्टर हॉस्टल के सामने दो स्थान तय किए हुए हैं, जिसकी चारदीवारी भी बनी हुई है। वहां पर बाहर गंदगी देखने को नहीं मिली है, लेकिन लीला भवन साइड बने गेट के पास गंदगी बिखरी हुई है। ऐसा लगता है कि स्थान की पिछले लंबे समय से सफाई नहीं हुई है। वहां पर अस्पताल की नर्सों के साथ कर्मचारियों के क्वार्टर हैं तो क्या उनको साफ सफाई की जरूरत नहीं है। अगर उनको कोई बीमारी हो जाती है तो भी अस्पताल का काम प्रभावित होगा ।

वहीं, टीबी अस्पताल के मुख्य द्वार के साथ बने म्यूनिसिपल वेस्ट के स्थान पर भी फैली गंदगी आम देखी जा सकती है। इसके साथ ही टीबी अस्पताल के क्वार्टरों के पास भी गंदगी का बोलबाला है । इसी तरह माता कौशल्या अस्पताल में वाहन पार्किंग के साथ म्यूनिसिपल वेस्ट का स्थान तय है, लेकिन फिर भी वहां पर आसपाल गंदगी का बोलबाला है । नजदीक ब्लॉक के पास कूड़ा कर्कट फैला हुआ है और सामने बने गुरुद्वारा के नजदीक भी गंदगी का माहौल है। ऐसे में साफ है कि सेहत मंत्री ब्रह्मा मो¨हदरा के शहर के अस्पताल ही स्वच्छता सर्वेक्षण से दूरी बनाए हुए हैं। जल्द सफाई करवाएंगे : डॉ. ¨सगला

रा¨जदरा अस्पताल के एमएस डॉ. राजन ¨सगला ने कहा कि गंदगी के बारे में उनको जानकारी नहीं है। वे उक्त गंदगी की जल्द ही सफाई करवाएंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!