जेएनएन, बनूड़ (पटियाला) : लॉकडाउन से बंद पड़े स्कूलों के दौरान पेरेंट्स से मांगी जा रही ट्यूशन फीस के लिए मापे जागृति कमेटी अब हाई कोर्ट में केस फाइल करने जा रही है। इससे पहले कमेटी के मेंबर मंगलवार को बनूड़ में शिवालिक कॉन्वेंट स्कूल और बेबी मॉडल स्कूल के प्रबंधकों से मिले और लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन स्टडी के एवज में मांगी जा रही ट्यूशन फीस पर विरोध जताया। मापे जागृति कमेटी के प्रधान जगतार सिंह थुहा और उपप्रधान लखविदर सिंह कराला ने कहा कि स्कूलों द्वारा मांगी जा रही फीस को लेकर बैठक की गई। मीटिग में करीब 24 अभिभावक पहुंचे। उन्होंने कहा उक्त दोनों स्कूलों की मैनेजमेंट के अलावा होली मैरी स्कूल के डायरेक्टर से भी स्कूल फीस को लेकर फोन पर बात की गई। कमेटी प्रधान ने कहा कि प्राइवेट स्कूलों के प्रबंधक फीस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं। इस मामले को लेकर कमेटी हाई कोर्ट में केस दायर करने जा रही है। इस अवसर पर गुरविदर सिंह, राजिदर सिंह, गोपाल सिंह, दिलबाग सिंह, मनप्रीत सिंह और मोहन धीमान आदि मौजूद थे।

मंथली फीस बढ़ाई अब कमेटी करेगी पैरवी

कमेटी के उपप्रधान लखविदर सिंह ने कहा कि पिछले समय में कुछ स्कूलों ने एडमिशन फीस को माफ करने की आढ़ में मंथली फीस कई गुना बढ़ा दी थी। कमेटी स्कूल की इस कार्रवाई पर भी कोर्ट में पैरवी करेगी। उन्होंने कहा कि एडमिशन फीस को माफ कर मंथली फीस को कई गुना बढ़ाना पेरेंटस पर बोझ है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!