जागरण संवाददाता, पटियाला : शिरोमणि अकाली दल के सीनियर उपप्रधान और पूर्व सांसद प्रो. प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने गांव तख्तुमाजरा में अकाली समर्थक की पत्नी जागीर कौर की मौत के लिए हलका घनौर के विधायक मदन लाल जलालपुर को जिम्मेदार ठहराया है। इस मामले में शनिवार को अकाली दल का एक प्रतिनिधिमंडल प्रो. प्रेम सिंह चंदूमाजरा और प्रधान सुरजीत सिंह रखड़ा के नेतृत्व में एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू को मिला और मांग की कि इस मामले की उच्चस्तरीय जांच करवाई जाए। एसएसपी को मिलने के बाद गुरुद्वारा दुखनिवारण साहिब में प्रो. चंदूमाजरा ने कहा कि गांव तख्तुमाजरा की घटना में जागीर कौर की मौत के लिए सीधे तौर पर हलका विधायक जलालपुर जिम्मेदार हैं। पहले अकाली वर्करों को पीटा गया और फिर उनके खिलाफ नाजायज केस बना दिए गए। जागीर कौर के पति के खिलाफ नाजायज केस बनाया गया है। विधायक ने महिलाओं के ़िखला़फ भद्दी शब्दावली इस्तेमाल करके गांव में दहशत फैलाई। पति, परिवार और रिश्तेदारों को बीमारी की हालत में मिलने नहीं दिया गया, जिस कारण जागीर कौर की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि इस मामले में अकाली दल ने प्रशासन को 11 दिसंबर तक जागीर कौर के भोग तक का अल्टीमेटम दिया है। उस समय तक उच्चस्तरीय जांच कर आरोपितों पर कार्रवाई नहीं की गई और अकाली वर्करों पर दर्ज किए नाजायज केस वापस नहीं किए गए एक प्रतिनिधिमंडल इस मामले में राज्यपाल को भी मिलेगा। यदि फिर भी सुनवाई नहीं हुई तो इसे सार्वजनिक आंदोलन बनाया जाएगा और इंसाफ के लिए संघर्ष किया जाएगा । उन्होंने कहा कि अकाली दल ने थाने में लगे कैमरों की सीसीटीवी फुटेज समेत और भी सबूत दे दिए हैं। जो सारी कहानी का सत्य बयान करते हैं।

कांग्रेस के विधायकों की नाराजगी को दबाव की नीति बताया

कांग्रेस के विधायकों की नारा•ागी पर प्रो. चंदूमाजरा ने कहा कि विधायक झूठी नारा•ागी दिखाकर अपने गलत काम करवाने के लिए प्रशासन पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं। कांग्रेस के विधायकों को समझ लेना चाहिए कि प्रशासन पर उनका दबाव पड़ सकता है, लेकिन अकाली दल पर नहीं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!