जागरण संवाददाता,पटियाला:

थाना पातड़ां इलाके में 26 दिसंबर को युवक को किडनैप कर कत्ल कर मोहाली में फेंकी लाश को पुलिस ने बरामद कर लिया है। मृतक श्याम शर्मा निवासी हथिउंदा जिला मदेपुरा बिहार हाल निवासी गांव नियाल के रूप में हुई है। श्याम को काम दिलाने का झांसाकर उसका साथी अंगद अपने दो अज्ञात साथियों के साथ ले गया था। इस मामले में पुलिस ने एक आरोपित अंगद को गिरफ्तार कर लिया है, जिसे तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

आरोपित ने कहा कि श्याम शर्मा को साथ ले जाने के बाद उससे मारपीट की थी, जिस वजह से उसकी मौत हो गई। कत्ल के बाद श्याम की लाश को बोरी में बांध गाड़ी से मोहाली के एक गांव में ले जाकर फेंक दी थी। पुलिस ने गांव पलहेड़ी मोहाली के नजदीक सड़क किनारे से गली हुई लाश बरामद कर ली है। आरोपित अंगद कत्ल के बाद सरहिद इलाके में पीओपी का काम कर रहा था, जहां से पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया। 50 हजार रुपए की देनदारी को लेकर हुआ हंगामा

पुलिस के अनुसार श्याम शर्मा पीओपी का काम करता है, जिसका अंगद कुमार के साथ पचास हजार रुपए की देनदारी चल रही थी। 26 दिसंबर को अंगद कुमार अपने साथियों के साथ रात को श्याम के पास पहुंचा और कहा कि वह काम दिला देगा, जिससे कर्ज उतर जाएगा। देर रात साढ़े 11 बजे तक श्याम वापिस नहीं लौटा तो श्याम की पत्नी ने फोन कर दिया। आरोपित ने फोन रिसीव करने के बाद वह खा-पीकर लौट आएंगे लेकिन सुबह तक श्याम घर नहीं पहुंचा। सुबह श्याम का फोन बंद आने पर अंगद से बात की तो उसने पैसे मांगे। श्याम की पत्नी ने जेठ से तीस हजार रुपए उधार मांग बाइक बेच बाकी पैसा इकट्ठा कर लौटाने की बात कही। आरोपित ने पैसा अपने अकाउंट में जमा करवाने को कहा लेकिन श्याम के परिवार वालों ने पहले उसे घर भेजने की बात कही। इसके बाद आरोपित ने फोन बंद कर दिया और फरार हो गया। जिस वजह से पुलिस को शिकायत कर दी थी। पीट-पीट एक पैर तक तोड़ दिया

पुलिस ने जब श्याम शर्मा की लाश बरामद की तो उसकी लाश काफी हद तक गल चुकी थी। उसके पैर बंधे हुए नहीं थे बल्कि एक पैर टूटकर अलग हो चुका था। डीएसपी पातड़ां रछपाल सिंह ने कहा कि कत्ल केस में आरोपित को नामजद करने के बाद गिरफ्तार कर लाश बरामद की है। जल्द ही अन्य दोनों आरोपित भी काबू कर लेंगे।

Edited By: Jagran