जागरण संवाददाता, पटियाला : क‌र्फ्यू के तीसरे दिन जिला प्रशासन की सख्ती से बाजारों में सन्नाटा छाया रहा। घर से बाहर निकलने वाले घुमक्कड़ों पर पुलिस ने लाठियां भांजीं। उल्लंघन करने वालों को पुलिस ने उठक-बैठक लगवा कर चेतावनी देकर छोड़ा। क‌र्फ्यू का उल्लंघन करने वालों पर पुलिस ने सख्ती करते हुए शहर के बाजारों और गलियों का गश्त किया। सरहिद रोड, राघोमाजरा, सरहंदी बाजार और शेरांवाला गेट इलाके में घरों से बाहर निकलने वालों पर लाठियां बरसाते हुए घर जाने को कहा। क‌र्फ्यू का उल्लंघन करने वालों पर पुलिस ने चार मामले दर्ज भी किए। जिला प्रशासन के अधिकारियों ने शहर के हालात पर पूरी नजर रखी।

लोगों की लापरवाही के बाद अनिश्चितकाल के लिए लगाया गया क‌र्फ्यू पूरी तरह प्रभावी रहा। अस्पताल ड्यूटी पर जाने वाले और मरीजों उनके रिश्तेदारों को ही आने जाने की इजाजत दी गई। हालांकि पूछताछ के बाद कई लोगों को घर लौटाया गया। क‌र्फ्यू दौरान लोग घरों में ही रहे। मंगलवार शाम तक शहर की सड़कें सुनसान रही। शहर के हर चौक चौराहों पर पुलिस के नाके रहे। सड़क पर दिखने वाले हर व्यक्ति से बाहर निकलने का कारण पूछा गया और जल्द घर फिर जाने की सलाह दी गई। बिना काम से सड़क पर निकलने वाले कुछ लोगों को पुलिस की सख्ती का सामना करना पड़ा। पुलिस ने ऐसे व्यक्तियों से सड़क पर कान पकड़ कर उठक बैठक लगवा क‌र्फ्यू का उल्लंघन न करने की चेतावनी दी। शहर में दाखिल होने वाली सड़कों पर पुलिस पार्टियां गश्त करती रही। सुबह दूध सप्लाई जारी, राशन की चिता बढ़ी

अनिश्चितकाल के लिए लगाए गए क‌र्फ्यू में सुबह दूध की सप्लाई तो हुई, लेकिन सब्जियां शहरवासियों के लिए मुहैया नहीं कराई जा सकी। राशन को लेकर भी लोग चितित नजर आए। मंगलवार को ज्यादातर दूध वाले सप्लाई लेकर घरों तक पहुंचे। करियाना स्टोर और सब्जियों को लेकर शहरवासी जिला प्रशासन के निर्देश का इंतजार करते रहे और न्यूज से लेकर सोशल मीडिया से जानकारी जुटाते रहे।

राहत की अफवाहें गर्म

मंगलवार को दिन भर सोशल मीडिया पर क‌र्फ्यू से राहत के मैसेज वायरल होते रहे। सोशल मीडिया पर दोपहर तीन से छह बजे तक और रात को आठ से दस बजे तक क‌र्फ्यू में ढील देने का मैसेज वायरल हुआ। पुराने मैसेज के वायरल होने पर शहरवासी क‌र्फ्यू में ढील की जानकारी जुटाते रहे लेकिन मंगलवार को क‌र्फ्यू में किसी तरह की राहत नहीं मिली। फिलहाल जिला प्रशासन इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहा। सार्वजनिक स्थान और सरकारी आफिस सैनिटाइज होंगे

कोरोना से बचाने के लिए कई अहम कदम जिला प्रशासन उठा रहा है। जिसके तहत जिले के सार्वजनिक स्थानों और सरकारी आफिस को सैनिटाइज करने का काम शुरू किया गया है। फिलहाल जिले के उन स्थानों को सेनिटाइज किया जा रहा है जहां रोजाना बड़ी संख्या लोग आते रहे हैं। नगर निगम और सब डिवीजन स्तर पर एसडीएम की तरफ से बनाईं टीमे सैनिटाइज का काम कर रही हैं। अपनी रसोई बंद रही

जरूरतमंदों को सस्ते दामों पर खाना उपलब्ध करा रही शहर की संस्थाओं ने रसोई घर को क‌र्फ्यू के कारण बंद कर दिया है। वामन अवतार मंदिर सनौरी अड्डा में 13 रुपये थाली देने वाली संस्था के संचालक महंत रविकांत ने कहा कि अगर कोई खाने के लिए वहां आता है तो खाना उपलब्ध कराया जाएगा, लेकिन क‌र्फ्यू में किसी को बाहर निकलने की इजाजत नहीं। ऐसे में जरूरतमंद कैसे उनके पास आएंगे। वहीं, पोलो ग्राउंड के पास बनी अपनी रसोई और रेड क्रॉस की गुरुद्वारा दुख निवारण साहिब के पास बनी रसोई फिलहाल बंद है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!