जागरण संवाददाता, भादसों (पटियाला) : सीएम के जिले में कैबिनेट मंत्री साधू सिंह धर्मसोत का हर कदम पर विरोध जारी है। सोमवार को भी धर्मसोत को भादसों में नए अड्डे के निर्माण कार्य का उद्घाटन करने के दौरान किसान जत्थेबंदियों के विरोध का सामना करना पड़ा। इस कारण वे आधे घंटे में ही वहां से खिसक गए।

सोमवार को सुबह दस बजे कैबिनेट मंत्री साधू सिंह धर्मसोत डेढ़ करोड़ रुपये की लागत से भादसों में बनने वाले नए बस स्टैंड का काम शुरू करवाने पहुंचे थे। यहां किसान जत्थेबंदियों ने मंत्री धर्मसोत को काले झंडे दिखाने के साथ-साथ उनके खिलाफ नारेबाजी भी की। इस दौरान धर्मसोत ने कहा कि भादसोंवासियों की करीब 40 साल पुरानी मांग पूरी करते हुए मुख्यमंत्री ने इस नए बस अड्डे के निर्माण को स्वीकृति देकर जरूरी फंड जारी किए हैं। किसानों के विरोध को देखते हुए धर्मसोत करीब साढ़े दस बजे पुलिस की आड़ में चुपचाप मौके से खिसक गए। वहीं, किसान मोर्चे पर डटे रहे और मंत्री के समर्थकों के जाने तक अपना प्रदर्शन जारी रखा। किसानों ने साथ ही अगले दिनों में भी प्रदर्शन जारी रखने की चेतावनी दी।

ज्ञात हो कि धर्मसोत का पहले भी उनके विधानसभा क्षेत्र में तीन बार किसान व अन्य जत्थेबंदियों द्वारा विरोध किया जा चुका है। इसके तहत नाभा में कुछ गुस्साए लोगों ने उनके खिलाफ नारेबाजी करने के साथ साथ उनकी गाड़ी पर पत्थर तक फेंके थे। वहीं, इसके बाद भादसों के गांव चहल में सड़क का उद्घाटन करने गए धर्मसोत को लोगों के तीखे विरोध का सामना करना पड़ा था। तीसरी बार भादसों के नजदीक गांव झंबाली सानी में गए मंत्री को किसानों ने घेरकर नारेबाजी की थी। किसान बोले-पुलिस की शह पर प्रदर्शन दबाने की कोशिश

किसान नेता बलजीत सिंह प्रधान घणीवाल, जगमेल सिंह सुधेवाल, मनजिदर सिंह घुंडर, गुरजंट सिंह, गुरजीत सिंह दर्गापुर, हरमेल सिंह, बलवीर सिंह, दर्शन सिंह, हरदीप सिंह, निर्मल सिंह ने कहा कि सत्ता पक्ष के कुछ नेता इस विरोध को पुलिस के दम पर दबाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन किसान जत्थेबंदियां पीछे नहीं हटेंगी। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों किसान जत्थेबंदियों द्वारा कैबिनेट मंत्री साधू सिंह धर्मसोत का भादसों नजदीक गांव झंबाली साहनी में विरोध करने के बाद मामले की शिकायत पुलिस के पास दर्ज करवाई गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि कैबिनेट मंत्री धर्मसोत पुलिस की शह पर उनके प्रदर्शन को दबाने की कोशिश कर रहे हैं। जिसके चलते पिछले दिनों कैबिनेट मंत्री के घेराव के बाद कांग्रेस नेता से मामले की शिकायत थाना भादसों पुलिस को दी गई है। इसके साथ ही किसान नेताओं ने चेतावनी दी कि जहां भी मंत्री धर्मसोत जाएंगे वह उनका विरोध करेंगे। वह इन धमकियों से डरने वाले नहीं हैं। झूठे प्रचार से सचेत रहे जनता : धर्मसोत

किसानों के भेष में कुछ राजनीतिक दल विरोध कर रहे हैं। जनता को विरोधी पार्टियों द्वारा किए जा रहे झूठ प्रचार से सचेत रहना चाहिए। पंजाब सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यो और पूरे किए जा रहे वादों के कारण आज आम आदमी पार्टी और अकाली दल के पास कोई मुद्दा नहीं रहा, जिस कारण ये पार्टियां बौखलाहट में आकर लोगों को गुमराह कर रही हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग विकास कार्यों का विरोध कर रहे हैं, वह जनता और देश विरोधी होते हैं। उन्होंने बताया कि कांग्रेस ने मुख्यमंत्री के नेतृत्व में शुरू से ही किसानों का साथ देते हुए केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध जताया है।

Edited By: Jagran