जेएनएन, पटियाला। सेंट्रल जेल पटियाला में बंद गैंगस्टर्स के बैरक के बाहर सुरक्षा में तैनात पीएपी का हवलदार राम प्रसाद निवासी मोहल्ला नर्सरी, कपूरथला जेल के अंदर ही नशे का नेटवर्क चलाने के साथ-साथ कैदियों को मोबाइल मुहैया करवाता था। आरोपित राम प्रसाद करीब पांच महीने पहले ही पीएपी जालंधर से पटियाला सेंट्रल जेल में नियुक्त हुआ था। उसकी ड्यूटी गैंगस्टर्स के बैरक के बाहर पहरा देने की थी।

19 अक्टूबर की सुबह 6 बजे से लेकर 2 बजे तक की शिफ्ट लगाने के बाद उसकी छुट्टी हुई। फिर जेल से बाहर निकल आरोपित शाम के समय फुल्कियां एंक्लेव साइड बाहर टहलने लगा। जेल टावर पर तैनात मुलाजिम ने इसे देख लिया और जेल सुपरिटेंडेंट को सूचना दे दी। इसके बाद त्रिपड़ी पुलिस की मदद से हवलदार राम प्रसाद को पकड़ा गया और जेल के अंदर फेंका जर्दे की पुड़िया व मोबाइल बरामद कर लिया गया।

राम प्रसाद को साथ लेकर उसके कमरे की तलाशी लेने टीम पहुंची तो यहां पर बाथरूम साइड से वह टेप से लिपटे हुए तीन बंद पैकेट लेकर छिपाने की कोशिश करने लगा। इन पैकेट को पुलिस ने पकड़ चेकिंग की तो इसमें से बीस ग्राम हेरोइन, 44 जर्दे की पुड़िया, एक मोबाइल फोन, एक चार्जर, एक हेड फोन, एक इंटरनेट डोंगल बरामद हुआ। जेल सुपरिंटेंडेंट भूपिंंदर सिंह विर्क ने कहा कि जेल के अंदर सुरक्षा बढ़ाने के साथ-साथ टावरों पर मुलाजिमों की मुस्तैदी बढ़ा दी है। हवलदार के बारे में पीएपी जालंधर को भी लेटर भेजा जा रहा है, ताकि अगली विभागीय कार्यवाही भी वहां से की जा सके।

आरोपित दो दिन के रिमांड पर

थाना त्रिपड़ी के इंचार्ज हरजिंदर सिंह ढिल्लों ने कहा कि जेल के अंदर व बाहर नशा पहुंचाने के मामलों में पहले भी राम प्रसाद पर केस दर्ज है। अब हवलदार के खिलाफ जेल सुपरिंटेंडेंट के बयानों पर केस दर्ज कर लिया गया है। इसे दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है, जिसके बाद नशा पहुंचाने के मकसद व अन्य पहलुओं पर जानकारी हासिल करेंगे।

गैंगस्टर गोरू बच्चा और गुरप्रीत गोपी के साथी बंद हैं बैरक में

हवलदार राम प्रसार सेंट्रल जेल में जिस बैरक के बाहर तैनात किया गया था, उसमें गैंगस्टर गोरू बच्चा और गुरप्रीत गोपी के साथी बंद हैं। जेलों में गैंगस्टरों की बढ़ती गतिविधियों के बाद पीएपी जालंधर सहित अन्य जगहों से गैंगस्टरों की बैरकों के बाहर पुलिस के जवान तैनात किए गए थे।

नशा तस्करी में दो हवलदार किए गए थे डिसमिस

लुधियाना: एसटीएफ ने गत दिवस सीपी कार्यालय के पास से पंजाब पुलिस के दो हवलदार और महिला को 12 ग्राम हेरोइन व 10 ग्राम चरस के साथ काबू किया। तीनों केंद्रीय जेल में हत्या के मामले में बंद आरोपित के साथ मिलकर नशा तस्करी करते थे। पुलिस ने तीनों के खिलाफ एसटीएफ थाना मोहाली में केस दर्ज किया। इसके साथ ही पुलिस अधिकारियों ने दोनों हवलदारों को डिसमिस कर दिया था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!