प्रेम वर्मा, पटियाला

जिला बार एसोसिएशन के प्रधान पद के लिए एडवोकेट भूपिदर सिंह विर्क चार साल के बाद फिर से चुनावी मैदान में उतरे हैं। इससे पहले वर्ष 2013-12 व 2015-16 में चुनाव में जीत हासिल कर दो बार प्रधानगी कर चुके हैं। टर्म खत्म होने के बाद वह अपने प्रोफेशनल करियर में बिजी हो गए थे, अब चार साल के बाद फिर से चुनाव लड़ रहे हैं। एडवोकेट विर्क मंगलवार को भी वकीलों के चैंबर में चुनाव प्रचार करते हुए नजर आए। प्रधानगी के उम्मीदवार भूपिदर विर्क ने दैनिक जागरण से चुनावी एजेंडो को लेकर चर्चा करते हुए कहा कि चुनावी मुद्दे में वकीलों की गरिमा बनाए रखने के लिए काम सबसे पहले नंबर पर रखा गया है। उन्होंने कहा कि पांच दशक से ज्यादा सयम से बार एसोसिएशन के चुनाव हो रहे हैं। इन दिनों कोर्ट बंद होने की वजह से जिन केसों की सुनवाई हो रही है, उनमें अदालत व वकीलों के बीच बेहतर तालमेल बनाने के लिए काम करेंगे। इसके अलावा वकीलों के चैंबर वाली बिल्डिग यादविदरा कांप्लेक्स व महात्मा गांधी कांप्लेक्स में बुनियादी सुविधाएं जैसे पानी, सफाई, लिफ्ट व वाशरूम की सुविधा बेहतर करने के साथ ही इनकी मेंटीनेंस के पुख्ता प्रबंध किए जाएंगे।

बार एसोसिएशन के आफिस में बैठने का समय तय होगा

भूपिदर विर्क ने कहा कि बार एसोसिएशन के प्रधान के आफिस वैसे तो हर समय खुला रहता है, लेकिन प्रोफेशनल काम साथ में होने की वजह से पूरा दिन आफिस में बैठना संभव नहीं हो पाता। ऐसे में प्रधान या अन्य किसी भी मेंबर की आफिस में सीटिग का समय तय किया जाएगा, ताकि किसी भी वकील भाई को जरूरत पड़ने पर आफिस में उनसे चर्चा या मीटिग की जा सके। उन्होंने कहा कि हर महीने मीटिग की जाती है, इसे रेगुलर रखा जाएगा। वहीं, वकीलों को उनके पेशे के साथ-साथ सामाजिक गतिविधियों में शामिल करने के लिए एकसाथ जोड़कर रखेंगे और आपसी तालमेल बेहतर किए जाएंगे। नए वकीलों के लिए चैंबर की व्यवस्था करेंगे, क्योंकि इस समय करीब 700 चैंबर हैं जबकि वकील 1200 से अधिक हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!