जागरण संवाददाता, पटियाला : जिले में सोमवार को 60 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं। यह पहली बार हुआ है कि एक दिन में कोरोना के इतने ज्यादा केस सामने आए हैं। इनमें एक्साइज विभाग के 14 अधिकारियों के साथ-साथ नायब तहसीलदार शामिल हैं। इतने केस सामने आने के बाद तुरंत जिला प्रशासन भी हरकत में आया है। मिनी सचिवालय के ए ब्लॉक को सुबह ही बंद कर दिया गया था। पूरे ब्लॉक को सैनिटाइज किया जा रहा है। उधर, मुलाजिमों को एक बजे के बाद दफ्तर आने को कहा गया है। नायब तहसीलदार के पॉजिटिव आने के बाद मिनी सचिवालय में स्थित सेवा केंद्र को भी बंद कर दिया गया है। जानकारी अनुसार पिछले समय में नायब तहसीलदार प्रशासन की विभिन्न बैठकों में शामिल रहे हैं। एक्साइज दफ्तर सहित निगम दफ्तर बंद

एक्साइज विभाग के 14 अफसर कोरोना पॉजिटिव आने के बाद एक्साइज विभाग को अगले निर्देशों तक बंद कर दिया गया है। वहीं, निगम कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद निगम दफ्तर को भी बंद कर दिया गया है। वहीं, दूसरी ओर ए ब्लॉक स्थित दफ्तरों में 50 फीसद स्टॉफ बुलाने के निर्देश दिए गए हैं। इसी तरफ दफ्तरों में पब्लिक डीलिग बंद कर दी गई। ए ब्लॉक में सेवादारों की ड्यूटी लगाई गई है कि बिना इमरजेंसी काम के बिना कोई व्यक्ति अंदर नहीं आना चाहिए। 35 संक्रमित एक-दूसरे के संपर्क से

60 कोरोना पॉजिटिव केसों में से 35 एक-दूसरे के संपर्क में आने से सामने आए हैं। सिविल सर्जन डॉ. हरीश मल्होत्रा ने बताया कि नाभा से पांच, राजपुरा से पांच, पातड़ां से तीन, समाना से दो व आसपास के गांवों से नौ केस सामने आए हैं। इन 59 केसों में से सात केस ऐसे हैं, जिनमें व्यक्ति बाहरी राज्यों से यहां आए थे और 17 कोरोना पॉजटिव के नए केस हैं। जन सहायता केंद्र में कोरोना फैलने की संभावना

मिनी सचिवालय के सामने बने जन सहायता केंद्र में 200 से ज्यादा बूथ स्थित हैं। केंद्र में सबसे ज्यादा पब्लिक डीलिग हो रही है। यहां लोग ड्राइविग लाइसेंस अप्लाई करवाना, प्रॉपर्टी से संबंधित दस्तावेज तैयार करना से लेकर हर डिपार्टमेंट से संबंधित दस्तावेज तैयार किए जाते हैं। यहां बूथ मालिक व पब्लिक में शारीरिक दूरी व मास्क पहनने के नियम का पालन नहीं हो रहा है। जिसके चलते केंद्र में कोरोना फैलने की संभावना बनी हुई है। जरूरी काम है तो रिसेप्शन पर दस्तावेज दे व्यक्ति

एसडीएम चरनजीत सिंह ने कहा कि ए ब्लॉक में स्थित दफ्तरों में पब्लिक डीलिग बंद कर दी गई है। अगर किसी व्यक्ति को कोई जरूरी काम है, तो उस संबंधी दस्तावेज रिसेप्शन पर दे सकता है। इसके अलावा ईमेल या फिर दफ्तरी कर्मचारियों के साथ फोन पर संपर्क कर काम करवाया जा सकता है। दफ्तर में 50 फीसद स्टाफ बुलाने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं, दूसरी और नायब तहसीलदार दफ्तर के कर्मचारियों के कोरोना टेस्ट करवाए जा रहे हैं।

बड़ी सब्जी मंडी दो दिन के लिए बंद

डिप्टी कमिश्नर कुमार अमित ने कोरोना संकट के चलते सनौर रोड स्थित बड़ी सब्जी मंडी को दो दिन के लिए बंद कर दिया है। वहीं, दूसरी ओर पुरानी सब्जी मंडी राघोमाजरा को चार दिन के लिए बंद रखने के निर्देश जारी किए हैं। डीसी ने यह निर्देश सोमवार को कोरोना के 59 पॉजिटिव केस सामने आने के बाद जारी किए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!