संवाद सहयोगी, पठानकोट: बदलते मौसम के साथ बीमारियां भी बढ़ गई है। ऐसे में सिविल अस्पताल में ओपीडी में मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है। चिल्ड्रन वार्ड में भर्ती ज्यादातर बच्चे पीलिया, बुखार, डायरिया व इंफेक्शन से पीड़ित हैं। पीडियाट्रिक डाक्टर बंदना गोयल के अनुसार बदलते मौसम में बच्चों को अकसर ही इंफेक्शन, बुखार, डायरिया, पीलिया जैसी बीमारियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में बच्चों का खास ख्याल रखने की जरूरत है। बाहर का खाना खाने व दूषित पानी पीने से बच्चों में इंफेक्शन जैसी बीमारियां उत्पन होती है। ऐसे में घर का बना खाना ही खाएं व पानी उबाल कर ही पीयें। उन्होंने बताया कि इस मौसम में डेंगू फैलने का खतरा भी अधिक रहता है ऐसे में बच्चों के कमरे में मच्छर भगाने वाली मशीन व क्रीम का इस्तेमाल करें ताकि मच्छर काट न पाये व डेंगू से बचाव किया जा सके।

मेडिकल स्पेशलिस्ट डा. रोहित भारद्वाज के अनुसार आम दिनों के मुकाबले उनके पास बुखार, इंफेक्शन, डायरिया, टायफायड के मरीज ज्यादा पहुंच रहे है। ऐसे में मरीजों को साफ-सफाई रखने व बाहर का खाना खाने से परहेज की सलाह दी जाती है। ज्यादा से ज्यादा तरल लेने व पानी उबाल कर ही पीने की हिदायत दी जाती है। ज्यादा दिन तक बुखार रहने व अन्य लक्ष्ण होने पर डेंगू टेस्ट की सलाह दी जाती है। वहीं मरीजों को कोविड नियमों की पालना करने की भी अपील की जाती है।

Edited By: Jagran