संवाद सहयोगी, गुरदासपुर : कारगिल युद्ध में शहादत का जाम पीने वाले सेना की 8 सिख यूनिट के शहीद सिपाही सतवंत ¨सह का 17वां श्रद्धांजलि समारोह शहीद सैनिक परिवार सुरक्षा परिषद के महासचिव कुंवर र¨वदर ¨सह विक्की की अध्यक्षता में गांव भुल्लेचक्क स्थित शहीद की याद में बने पैट्रोल पंप पर आयोजित किया गया। इसमें जिला प्ला¨नग बोर्ड की चेयरमैन नीलम महंत बतौर मुख्य मेहमान के तौर पर उपस्थित हुईं। इनके अलावा शहीद की माता सुखदेव कौर, पिता कश्मीर ¨सह, भाई सतनाम ¨सह, जिला एनआरआइ सभा के प्रधान एनपी ¨सह, शहीद ले. नवदीप ¨सह की माता जग¨तदर कौर आदि ने विशेष तौर पर शामिल होकर शहीद को श्रद्धासुमन अर्पित किए।

चेयरपर्सन नीलम महंत ने कहा कि शहीद राष्ट्र की बहुमूल्य विरासत होते हैं तथा जो देश अपने शहीदों के बलिदान को भूल जाते हैं, उनका अस्तित्व समाप्त हो जाता है। उन्होंने कहा कि आंतकवाद के पोषक पाकिस्तान ने आज कश्मीर में जो आंतकवाद का मिनी युद्ध छेड़ा हुआ है, उसका फन कुचलने के लिए सरकार को ठोस नीति बनानी चाहिए।

कुंवर र¨वदर विक्की ने कहा कि कारगिल युद्ध भारतीय सेना ने जिन कठिन परिस्थितियों में लड़ा। उसकी मिसाल विश्व में अन्य कहीं नहीं मिलती तथा शहीद सिपाही सतवंत ¨सह ने 21 वर्ष की अल्प आयु में अपना बलिदान देकर जिस अदम्य साहस का परिचय दिया है, वह युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणा स्त्रोत है। उन्होंने कहा कि शहीद परिवारों को उचित मान सम्मान देकर ही हम शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित कर सकते हैं। इस मौके पर रागी जत्थे द्वारा वैरागमई कीर्तन कर शहीद की शहादत को नमन किया गया। मुख्यातिथि द्वारा शहीद के परिवार समेत 10 अन्य शहीद परिवारों को शाल भेंट कर स मानित किया।

इस मौके पर ग्राम सुधार सभा बहरामपुर के प्रधान ठाकुर विजय कुमार, सूबेदार शक्ति पठानिया, म¨नदर ¨सह, एडवोकेट गुरमुख निहाल ¨सह, हंस राज, देस राज, जगपाल ¨सह, दिलबाग ¨सह, सुख¨वदर ¨सह, कुलबीर ¨सह, हरजीत ¨सह, मनतेज ¨सह आदि उपस्थित थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!