सवांद सहयोगी, दुनेरा :

पंजाब में बिजली के रेट अन्य राज्यों के मुकाबले बहुत ज्यादा है। बावजूद इसके उपभोक्ताओं को कटों का सामना करना पड़ रहा है। शिकायतें करने के बाद भी उनकी समस्या का समाधान नहीं हो रहा। धारकलां के गांव लैहरून के टीका नगरोटा के वार्ड नंबर एक से तीन में बीस घरों में शनिवार सुबह 7:40 से बिजली बंद थी। पूरा दिन बीत जाने के बाद भी बिजली ठीक नहीं की गई। उपभोक्ता मंटू थापा, धर्मपाल, पूजा देवी, रूपेश कुमार, बलबंत सिंह ने बताया कि धारकलां के जेई ने फोन नहीं उठाया। बिना बारिश ओर तूफान के कारण लगभग बीस घरों को तीस घंटे बिना बिजली के गुजारने पड़े। मंटू थापा ने कहा कि एक तो विभाग मे कर्मचारियों की भारी कमी है। विभाग धारकलां तहसील के दुर्गम क्षेत्र में पर्याप्त स्टाफ की नियुक्त करें, ताकि लोग परेशान न हो। तीन पंचायतों में एक हजार से ज्यादा उपभोक्ता हैं। वहीं, राजिद्र धीमान ने बताया कि विभाग मे स्टाफ की कमी है। यदि ऐसे हाल रहे तो उपभोक्ताओं की परेशानी दूर नहीं होगी। मांग उठाई है कि बिजली कटों की समस्या से निजात दिलाई जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!