पठानकोट, जेएनएन। पंजाब के पठानकोट जिले के गांव थरियाल में क्रिकेटर सुरेश रैना के फूफा के परिवार पर हमले की एसआइटी ने जांच शुरू कर दी है। 19 अगस्त की रात को परिवार पर हमला हुआ था। इसमें सुरेश रैना के फूफा अशोक कुमार और फुफेरे भाई की मौत हो गई है। इस संबंध में सुरेश रैना के ट्वीट के बाद पंजाब सरकार ने घटना की जांच के लिए एसआइटी गठित की है।

कुछ संदिग्धों पर पुलिस की नजर, बंद हैं सभी के मोबाइल

एसआइटी ने बुधवार को जांच शुरू कर दी है। इस हमले मे क्रिकेटर सुरेश रैना के फूफा अशोक कुमार की मौत हो गई थी जबकि मंगलवार तड़के घायल फुफेरे भाई कौशल कुमार ने भी दम तोड़ दिया था।आइजी बॉर्डर रेंज एसपीएस परमार ने अमृतसर में एसआइटी के सदस्यों के साथ दोपहर 12 से दो बजे तक मंथन किया। बैठक में एसएसपी पठानकोट गुलनीत खुराना सहित टीम के अन्य सदस्य भी शामिल थे।

आइजी ने एसआइटी के साथ वारदात के अलग-अलग एंगल पर दो घंटे किया मंथन

इस दौरान वारदात की पहले से चल रही जांच के अलावा कुछ और एंगल पर भी चर्चा की गई है। इस मामले को लेकर पुलिस की कुछ संदिग्धों पर भी नजर है लेकिन उनके मोबाइल कुछ समय में बंद चल रहे हैं। इस कारण वे अब तक पुलिस के हाथ नहीं लगे हैं। शक है कि इन संदिग्धों का वारदात से संबंध हो सकता है।

उसी रात तीन और जगह भी हुई थी चोरी की कोशिश

19 अगस्त की रात जब हमलावरों ने सुरेश रैना के फूफा अशोक कुमार के परिवार पर हमला किया था उसी रात क्षेत्र में तीन अन्य जगह भी चोरी की कोशिश की गई थी। पुलिस की अब तक की जांच में सामने आया है कि अशोक कुमार के घर वारदात से पहले हमलावरों ने एक सैनिक के घर पर भी चोरी की कोशिश की थी। घर चारों ओर से बंद होने के कारण वारदात को अंजाम नहीं दे पाए थे।

क्षेत्र में एक करियाना स्टोर और एक अन्य इमारत में भी सीढिय़ां लगाकर घुसने की कोशिश की गई थी। पुलिस को शक है कि गिरोह ने चौथी वारदात अशोक कुमार के घर की थी। बेसबॉल बैट से हमला कर अशोक कुमार की हत्या कर दी थी और परिवार के चार लोगों को गंभीर रूप से घायल कर दिया था।

तरनतारन में तीन स्थानों पर पुलिस की छापामारी

एसपी (डी) प्रभजोत सिंह विर्क की अगुआई में पठानकोट पुलिस टीम ने बुधवार को तरनतारन के गांव वैरोंवाल, ढोटियां, कालिया सकत्तरा में छापा मारा। पुलिस के हाथ क्या सुराग लगे हैं, इसकी जानकारी नहीं मिल पाई। वहीं पुलिस इस मामले को लेकर लुटेरों व गैंगस्टरों की सूची भी खंगाल रही है।  पुलिस ने पठानकोट और अमृतसर में भी कुछ जगह दबिश दे रही है।

इसके अलावा रैना के फूफा के साथ जिन लोगों की पहले भी रंजिश रही है उन्हें भी तलाश किया जा रहा है। अब तक पुलिस 35 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर चुकी है। इनमें झुग्गी झोंपड़ी, पहले संपर्क में रहे लोग, कर्मचारी व कुछ रेहड़ी फड़ी वाले भी शामिल हैं।

हमलावर जल्द आ जाएंगे काबू : एसएसपी

एसएसपी गुलनीत खुराना का कहना है कि सुबूत जुटाने के लिए हर एंगल पर काम किया जा रहा है। कई जिलों में दबिश भी दी है। कुछ लोगों से पूछताछ कर चुके हैं। उम्मीद है जल्द केस को सुलझा लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें:  लड़ाकू विमान राफेल को पक्षियों से खतरा, अंबाला एयरफोर्स स्टेशन को लेकर IAF ने हरियाणा सरकार को पत्र 

 

यह भी पढ़ें: पंजाब पोस्ट मैट्रिक स्काॅलशिप घोटाले पर पर्दा डालने के लिए बुना गया था फाइलों का जाल

 

यह भी पढ़ें: हरियाणा के लखनौर साहिब में हैं श्री गुरु गोबिंद सिंह का ननिहाल, यहां बिताए थे बचपन के दिन

 

 

 

 

 पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!