जागरण संवाददाता, पठानकोट

ठेकेदारी प्रथा के तहत निगम में काम कर रहे कर्मचारियों को पिछले 9 महीनों से वेतन नहीं मिला है। वेतन न मिलने के कारण कर्मचारियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सोमवार को स्वच्छ भारत सफाई मजदूर के बैनर तले कर्मचारियों का शिष्टमंडल वाटर सप्लाई यूनियन प्रधान धर्मेद्र ठाकुर के नेतृत्व में कमिश्नर से मिला व उन्हें मांग पत्र सौंपा। जानकारी देते हुए प्रधान धर्मेद्र ठाकुर ने बताया कि वह निगम के अधीन आते नए जुड़े एरिया में चलने वाले टयूबवेलों पर पिछले 9 महीने से काम कर रहे हैं। लेकिन, उन्हें वेतन नहीं मिल रहा जिस कारण उनके लिए रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है। वेतन न मिलने के कारण घर का गुजारा चलाना मुश्किल हो गया है। बच्चों की फीस भरना भी मुश्किल हो गई है। मेयर और कमिश्नर को समस्या संबंधी कई बार अवगत करवाया परंतु कोई लाभ नहीं हुआ। उन्होंने निगम कमिश्नर व मेयर से मांग करते हुए कहा कि उन्हें जल्द से जल्द वेतन देकर समस्या का समाधान किया जाए। इस मौके पर राज कुमार राजू, टोनी ,जगदीश कुमार, पवन कुमार व प्रधान जितेंद्र ¨सह आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran