संवाद सहयोगी, सुजानपुर : पंजाब स्टेट पेंशनर एसोसिएशन की विशेष बैठक जिला प्रधान रामदास शर्मा की अध्यक्षता में विवेकानंद हाई स्कूल सुजानपुर में आयोजित हुई। बैठक में पंजाब सरकार द्वारा स्टेट पेंशनरों की मांगों को अनदेखी करने पर रोष जताया गया तथा पंजाब में होने वाले विधान सभा उपचुनाव में स्टेट पेंशनरों द्वारा पंजाबी मुलाजिम संघर्ष कमेटी की ओर से किए जा रहे संघर्षो में भाग लेने का सर्वसम्मति से निर्णय किया गया।

जिला प्रधान रामदास शर्मा ने कहा कि पंजाब सरकार तीन प्रतिशत महंगाई भत्ता देकर पंजाब के पेंशनरों तथा कर्मचारियों से भद्दा मजाक किया है। केंद्र की ओर से अपने कर्मचारियों को पांच प्रतिशत महंगाई भत्ता दिया गया है जबकि पंजाब सरकार ने मात्र तीन प्रतिशत महंगाई भत्ता दिया है। वह भी नवंबर महीने से जबकि पिछले महंगाई भत्ता का बकाया तथा महंगाई भत्ते की चार किस्तों संबंधी कोई जानकारी नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार पेंशनरों को जल्द से जल्द पेंशन दोहराई का लाभ दें, महंगाई भत्ते की बकाया किश्तों तथा एरियर को जारी करें, मेडिकल भत्ते की राशि को बढ़ाकर प्रति माह दो हजार किया जाए, कैशलेस सुविधा को जरूरी परिवर्तनों के साथ दोबारा लागू किया जाए, रोडवेज की बसों में रेल की तर्ज पर किराए में पचास प्रतिशत छूट दी जाए, सभी सरकारी कार्यालयों में पेंशनरों के कार्य पहल के आधार पर किए जाएं, पेंशनरों का सारा रिकॉर्ड स्थानीय बैंकों में भेजा जाए।

कमेटी पदाधिकारियों ने चेताया कि इसी के रोष स्वरूप 14  अक्टूबर को मुकेरियां में पंजाब सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया जाएगा। इस मौके पर रमेश शर्मा, कुलदीप राय, रघुबीर सिंह, करतार चंद, रतन चंद, कृष्ण लाल, कैलाश चंद्र, यशपाल, बालमुकंद, तरसेम लाल, रघुवीर सिंह, जनकराज, कर्म सिंह, सुमन आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!