संवाद सहयोगी, बमियाल: सरकारी अस्पताल नरोट जैमल सिंह में पिछले लंबे समय से एंबुलेंस चलाने के लिए ड्राइवर ही नहीं है। इस कारण क्षेत्र के लोगों को एंबुलेंस सुविधा नहीं मिल रही है। इससे लोगों को निजी वाहन का इंतजाम करके मरीज को जिला अस्पताल ले जाना पड़ता है।

ग्रामीण रवि कुमार, अजीत राम, लव कुमार, वीरेंद्र कुमार इत्यादि ने बताया कि अस्पताल में इस समय करीब चार एंबुलेंस है, लेकिन ड्राइवर नहीं होने के कारण यह लोगों के काम नहीं आ रही। वहीं विभाग को कई बार जरूरत पड़ने पर एंबुलेंस ले जाने के लिए किराए का ड्राइवर लाना पड़ता है। लंबे समय से यहां एंबुलेंस के ड्राइवर और अन्य स्टाफ की कमी को पूरा करने की मांग की जा रही है, लेकिन आज तक इसकी सुध नहीं ली गई है। इस समस्या को लेकर कई बार सरकार से गुहार लगाई जा चुकी है लेकिन उनकी समस्या का समाधान नहीं हुआ।

इस संबंधी अस्पताल के सीनियर मेडिकल अधिकारी डा. रवि ने बताया कि एंबुलेंस तो अस्पताल में है। लेकिन स्थाई रूप में ड्राइवर नहीं होने के कारण विभाग को भी दिक्कत आती है। लोगों की इस समस्या से संबंधी उच्च अधिकारियों को अवगत करवाया गया है।

Edited By: Jagran