जागरण संवाददाता, पठानकोट : निगम की वाटर सप्लाई ब्रांच ने शहर के कमर्शियल और रेजिडेंशियल धारकों पर कार्रवाई करने के साथ-साथ बकाया धारक सरकारी विभागों को भी नोटिस जारी कर दिए। शुक्रवार को ब्रांच ने सरकारी स्कूलों सहित 6 सरकारी विभागों को नोटिस जारी कर जल्द से जल्द बकाया जमा करवाने के लिए कहा है। इसके अलावा बकाया धारकों के खिलाफ शुरु किए गए अभियान के पहले दिन 11 धारकों से 1 लाख 5 हजार की रिकवरी की। नगर निगम की टीम ने बकाया धारकों से बकाया राशि वसूलने के लिए गठित तीन टीमों ने शुक्रवार को लमीनी, रामपुरा, भदरोया व प्रेम नगर एरिया में भेजा। अभियान के दौरान तीनों टीमों ने जारी हुई लिस्ट के अनुसार 11 धारकों से 1 लाख 5 हजार की वसूली की गई। इस दौरान किसी भी धारक का कनेक्श्न नहीं काटा गया। हालांकि, पांच ऐसे धारक मिले जिन्होंने सोमवार तक का समय मांगा। टीम ने हायर अथॉरिटी को सूचित किया जिसके बाद उन्हें सोमवार तक का समय दिया गया।

पहले फेज में 450 धारकों पर होगी कार्रवाई

शहर के करीब 8500 धारकों पर पानी व सीवरेज बिलों का 1 करोड़ 30 लाख का बकाया है। जिसमें सरकारी विभाग भी शामिल हैं। निगम प्रशासन ने वाटर सप्लाई ब्रांच को आदेश किया है कि पहले फेज में दस हजार या इससे अधिक राशि वाले बकाया धारकों पर कार्रवाई की जाए। इसके लिए बकायदा तीन टीमों का गठन किया गया है। निगम की ओर से तैयार की गई सूची के अनुसार 450 के करीब ऐसे धारक पाए गए जिन पर दस हजार या इससे अधिक की राशि स्टैंड करती है। अगले एक महीने के भीतर उक्त सभी धारकों से बकाया राशि वसूली जाएगी अथवा जो नहीं देगा उसका कनेक्शन काटा जाएगा। निगम प्रशासन का कहना है कि उक्त धारकों पर कार्रवाई करने से निगम के खाते में पचास लाख के करीब का राजस्व आ जाएगा। इसके बाद इससे कम राशि वाले बकाया धारकों पर कार्रवाई की जाएगी। एक माह के दौरान 6 डिफाल्टरों के कनेक्शन काटे गए व 60 लाख की वसूली की गई। कनेक्शन कटने के बाद बकाया धारकों ने अपना पैसा जुर्माना व ब्याज सहित जमा करवाया जिसके बाद उनका कनेक्शन जोड़ दिया गया है। अभियान के तहत आज 11 धारकों से 1 लाख 5 हजार रुपए की वसूली की गई है।

अश्वनी शर्मा, इंचार्ज, वाटर सप्लाई व सीवरेज ब्रांच

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!