संवाद सहयोगी, जुगियाल : रणजीत सागर बांध परियोजना के अस्पताल शाहपुर कंडी टाउन शिप में एसएमओ डॉ. अनीता प्रकाश की अध्यक्षता में डेंगू एवं मलेरिया जागरूकता सेमिनार लगाया गया। जिसमे डेंगू रोग के लक्षण और उपचार की जानकारी दी गई। नोडल अधिकारी डॉ. जेपी भट्टी ने बताया कि डेंगू दुनिया भर में पाए जाने वाला एक खतरनाक वायरल रोग है। जो दिन के समय संक्रमित मादा एडीज एचिप्टी मच्छर के काटने से होता है। इसके लक्षणों में पांच छह दिन बुखार आना, सिर, पीठ और जोड़ों मे दर्द रहना, आंखों के पीछे दर्द होना, जी मिचलाना, उल्टी तथा दस्त का लगना, नाक, कान और दांतों में रक्त बहना, रक्तचाप कम हो जाना आदि है। इस स्थिति में पूरी तरह से इस रोग की पुष्टि होने तक इसके इलाज का इंतजार करना चाहिए। डेंगू का लारवा साफ पानी में सात दिन में पनपता है। इस के बचाव के लिए घर के आस-पास या छतों पर पानी न जमा होने दें। घरों में बरतनों आदि में पानी भर कर रखने पर उन्हें ढककर रखें। सेहत विभाग की ओर से शुक्रवार को ड्राई डे घोषित किया गया है जिस दिन सभी ने अपने घरों मे कूलर के पानी को जरूरी बदलना है। निशुल्क दूरभाष सेवा में 104 टोल फ्री नंबर डायल कर इसके बारे में जानकारी भी ले सकते हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!