जागरण संवाददाता, पठानकोट: लंबी दूरी की ट्रेनें शुरू होने के बाद यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए रेल प्रशासन सतर्क हो गया है। यात्रियों की सुरक्षा को लिए जीआरपी व आरपीएफ ट्रेनों व प्लेटफार्म पर आने-जाने वाले हरेक व्यक्ति पर पैनी निगाह रखे हुए हैं। इस दौरान यहां दोनों अपने-अपने स्तर पर यात्रियों को मास्क पहनने के लिए जागरूक कर रहे हैं वहीं संदिग्ध दिखने वाले व्यक्ति संबंधी तुरंत प्रभाव से एस्कार्ट कर रही टीम अथवा रेलवे अधिकारी को देने के लिए कहा जा रहा है। बुधवार को सिटी व कैंट रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ व जीआरपी ने संयुक्त रूप से चेकिग अभियान चलाकर ट्रेनों को चेक किया।

जीआरपी पठानकोट सिटी के एएसआइ मनोज कुमार व एएसआइ भूपिद्र सिंह ने बताया कि चेकिग अभियान के दौरान संबलपुर से आने वाली मूरी एक्सप्रेस, जम्मूतवी से वेरावल जाने वाली सोमनाथ एक्सप्रेस, पठानकोट से अमृतसर जाने वाली रावी एक्सप्रेस को विशेष तौर पर चेक किया गया। कैंट स्टेशन पर भी जीआरपी व आरपीएफ ने संयुक्त रूप से देश के विभिन्न राज्यों से माता वैष्णो देवी कटड़ा, उधमपुर व जम्मूतवी जाने वाली एक्सप्रेस ट्रेनों को चेक किया गया। रेलवे स्टेशन पर काम करने वाले कुलियों, वेंडरों, टैक्सी चालकों को भी रेलवे परिसर में किसी संदिग्ध अथवा शकी व्यक्ति की तुरंत जानकारी देने के लिए कहा गया।

लंबी दूरी की सभी ट्रेनें खुलने के बाद यात्रियों की बढ़ती संख्या व स्वतंत्रता दिवस को लेकर ट्रेनों व प्लेटफार्म पर सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ाया गया है। जिसके तहत सिटी जीआरपी के जवानों की ओर से ट्रेनों को अंदर से चेकिंग की जा रही है और यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिग बनाने व किसी भी अंजान व्यक्ति के दिखने पर तुरंत जीआरपी, आरपीएफ व रेलवे अधिकारी को सूचित करने के लिए कहा जा रहा है।

- सुखविद्र सिंह, थाना प्रभारी जीआरपी, पठानकोट सिटी।

- इलावा प्लेटफार्म पर रोजाना जीआरपी व जिला पुलिस के साथ मिलकर चेकिग अभियान चलाया जा रहा है ताकि स्टेशन पर सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत बनाया जा सके। मुख्य गेट पर जीआरपी और अंदर आरपीएफ के जवान आने व जाने वाले प्रत्येक यात्री पर पैनी निगाह रख हुए हैं।

- नितेश साल्वी, आरपीएफ पोस्ट कमांडर, पठानकोट कैंट।

Edited By: Jagran