संवाद सहयोगी, पठानकोट

मोहल्ला भारत नगर में पिछले एक सप्ताह में चोरी के घटित हुये पांच मामलों की तह तक जाने के लिये पुलिस सब्जी मंडी, कैंट रेलवे स्टेशन पर बने होटलों व रेस्ट हाउसों में चेकिंग की। पीसीआर दस्तों की ओर से दिन में एक अथवा दो बार ही चक्कर लगा कर मात्र अपनी ड्यूटी पूरा की जा रही है। दिनदहाड़े चोरों की ओर से लगातार एक के बाद एक चोरी की वारदात को अंजाम देने के उपरांत पुलिस के हाथ कुछ खास न लग पाने के कारण अब पुलिस ने मोहल्ला के समीप स्थित सब्जी मंडी तथा कैंट रेलवे स्टेशन के बाहर स्थित होटलों एवं रेस्ट हाऊसों में ऐसे किसी संदिग्धों को ढूंढना शुरू कर दिया है। होटलों एवं रेस्ट हाऊसों में जाकर इस बात का पता लगाया जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों में वहां किसी अन्य जिला अथवा राज्य से आकर कोई संदिग्ध तो नहीं रह पाया। इसके साथ ही सब्जी मंडी में आढ़तियों की ओर से बनाई गई दुकानों पर भी जाकर संदिग्धों की तफ्तीश की जा रही है। लोगों की माने तो उनका भय पहले की भांति है। वह अपने घरों को खाली छोड़ कर अब बाजार में अपने घरेलू कार्य तक करने नहीं जा पा रहे। दबी जुबान में पुलिस इस बात को मान रही है कि चोरी की इन घटनाओं को अंजाम देने में पठानकोट के किसी शातिर चोर के साथ-साथ किसी बाहरी जिले से आये अन्य संदिग्ध भी शामिल है।

मालूम हो कि गत दिवस भारत नगर में चोरों ने एक बैंक मैनेजर के घर सेंध लगाकर वहां से आधा किलोग्राम सोना तथा पचास हजार की नकदी उड़ा ली। इसके अगले ही दिन चोरों ने एक रिटायर्ड डैम अधिकारी के घर को दिन दहाड़े निशाना बनाया परन्तु नकदी तथा सोना हाथ न लगने के बाद वह तोड़फोड़ कर वहां से चले गये। इसके बाद शुक्रवार को इन चोरों ने जंगम मंदिर में रात को सेंध लगाकर वहां से गोलक उड़ा ली तथा मंदिर की छत पर ले जाकर उसमें रखी नकदी उड़ा ले गये। इसके अगले ही दिन रामनगर में चोरों ने पुन: 20 मिनट में चोरी की दो बड़ी वारदातों को अंजाम देकर 10 तोले ज्वैलरी तथा 20 हजार की नकदी चुरा ली। पीडित दोनों परिवार मंदिर में ही एक व्यकित की बरसी पर गये हुये थे।

टेक्नीकल सैल का सहारा ले रही पुलिस

गत दिनों एक कारोबार के घर सेंध लगाकर कोठी से पांच लाख की नकदी एवं मोबाइल उड़ाने के मामले को सुलझाने के लिये जिला पुलिस की ओर से टेक्नीकल सैल का सहारा लिया जा रहा है। चोरी की घटनाओं को रोकने के लिये पुलिस की ओर से चौकीदार की तैनाती की गई थी। परन्तु चोरों ने गत दिवस पुन: हमला कर चौकीदार से मोबाइल छीन लिया । पुलिस की ओर से चुराये गये इन मोबाइल को ट्रै¨कग पर लगाया गया है। आईओ बलविन्द्र ¨सह ने बताया कि पुलिस की ओर से इसके लिये टैक्नीकल ¨वग की सहायता ली जा रही है।

लोगों की ली जा रही मदद

थाना प्रभारी रविन्द्र ¨सह ने बताया कि मंदिर में चोरी की घटना को अंजाम देने के आरोपित के गिरेवान तक पहुंचने के लिये पुलिस की ओर से स्थानीय लोगों की मदद ली जा रही है। पुलिस टीमें लगातार आसपास के लोगों से गुपचुप तरीके से पूछताछ कर रही है। इसके साथ ही मंदिर के कुछेक स्थानों से ¨फगर ¨प्रट एक्सपर्ट द्वारा सबूत एकत्र किये गये हैं जिनके आधार पर कुछेक युवकों से पूछताछ भी चल रही है।

Posted By: Jagran