जागरण संवाददाता, पठानकोट : मामूली कहासुनी के बाद हुई तकरार में बस चालक के बेटे ने बस पर चार फायर कर दिए। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने स्थिति मौके से बस चालक को को गिरफ्तार कर लिया, जबकि बेटा व उसका एक अन्य साथी चकमा देकर फरार हो गए। पुलिस ने आरोपितों पर जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज किया है।

आरोपितों की पहचान अंग्रेज सिंह (55) व उसका बेटे जतिन सिंह (25) निवासी कत्थूनंगल के रूप में हुई है। अंग्रेज सिंह प्राइवेट बस का ड्राइवर है। घटना शुक्रवार रात नौ बजे के बाद शहर के एपीके रोड स्थित एक पेट्रोल पंप के पास घटित हुई। शिकायतकर्ता हरदीप सिंह एक अन्य निजी बस का कंडक्टर है।

मामले की जाच कर रहे बस स्टैंड पुलिस चौकी प्रभारी सब इंस्पेक्टर अजविंदर सिंह ने बताया कि शुक्रवार की देर शाम रूट से फ्री होने के बाद दोनों ने एपीके रोड पर स्थित पेट्रोल पंप पर अपनी बसों को खड़ा कर दिया। रात नौ बजे के करीब दोनों के बस खड़ी करने को लेकर लेकर कहासुनी हुई। इसी दौरान अंग्रेज सिंह ने अपने बेटे जतिन को फोन कर दिया। उसने मौके पर पहुंचते ही बस पर चार फायर कर दिए।

घटना के बारे में जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और बस चालक अंग्रेज सिंह को हिरासत में ले लिया। उन्होंने कहा कि सुबह हरप्रीत सिंह ने मामले की शिकायत दर्ज करवाई है कि अंग्रेज सिंह व उसके बेटे जतिन सिंह ने उस पर जानलेवा हमला किया है। हरप्रीत सिंह की की शिकायत पर दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कर जाच शुरू कर दी गई है।

Edited By: Jagran