जागरण संवाददाता, पठानकोट : पठानकोट में अतिक्रमण हटाओ अभियान में नोटिस पाने पाने दुकानदारों को नगर निगम में हाजिरी भरनी होगी। 200 के करीब दुकानदारों को दफ्तर में जाकर अतिक्रमण करने का कारण बताना होगा। इस सप्ताह 10 से 15 दुकानदारों की हाजरी लगेगी। अतिक्रमणकारी को अधिकारियों के समक्ष भविष्य में दोबारा अतिक्रमण न करने का आश्वासन देना होगा। अगर इसके बाद भी अतिक्रमण नहीं हटता है निगम कार्रवाई का रास्ता अपनाएगा। प्रशासन-निगम की मानें तो दुकानदारों को नोटिस के बाद अपना पक्ष रखने का अवसर मिलेगा, इसके बाद आगामी कार्रवाई के मौके पर किसी की आपत्ति मंजूर नहीं होगी। व्यापार मंडल ने उठाया मेयर के सामने मसला

अतिक्रमण अभियान मसले को लेकर व्यापार मंडल का शिष्टमंडल जिला प्रभारी भारत महाजन, चेयरमैन चाचा वेद प्रकाश, प्रधान नरेश अरोड़ा व सीनियर वाइस प्रधान अमित नय्यर व महासचिव राजेश पुरी के नेतृत्व में मेयर अनिल वासुदेवा से मिला। शिष्टमंडल में सह कैशियर मनु महाजन,पीआरओ अरुण गुप्ता, रमन हांडा रामपाल भंडारी, अजय कोहली राजीव सेठ, रविद्र महाजन, राकेश अग्रवाल, कमल शर्मा विजय चोपड़ा, अभय महाजन आदि उपस्थित थे।

व्यापार मंडल चाहता है-सही ढंग से चलें कारोबारी

पदाधिकारियों ने कहा कि व्यापार मंडल चाहता है कि सभी व्यापारियों का कारोबार सही ढंग से चले इसके लिए सही तरीके से और नियमों का पालन करके कारोबार करना जरूरी है। काफी समय से गांधी चौक से लेकर डाकखाना चौंक में अतिक्रमण की समस्या बढ़ती जा रही है। जिसका मुख्य कारण संडे बाजार को सड़क पर लगने वाली फड़ियां, रेहडिया बन रही हैं। इस समस्या के कारण मेन बाजार के सभी दुकानदारों का कारोबार भी प्रभावित हो रहा है। इनके कारण ट्रैफिक समस्या भी विकराल रूप धारण कर लेती है। मेन बाजार के सभी दुकानदार एवं व्यापारी यही चाहते हैं कि इस अतिक्रमण की समस्या के समाधान हेतु नगर निगम द्वारा उक्त फड़ियों रेहड़ियों का एक स्थान निर्धारित किया जाए और येलो लाइन लगाई जाए और बाजार में सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए जाएं।

जल्द किया जाएगा समस्या का समाधान

नगर निगम मेयर अनिल वासुदेवा ने बताया कि व्यापार मंडल ने उनसे शहर के गांधी चौक, मेन बाजार व गाड़ी अहाता चौक में लग रही रेहड़ियों के कारण पैदा हो रही ट्रैफिक समस्या संबंधी अवगत करवाया है। पदाधिकारियों से सहमति हुई है कि बाजार में लगने वाली रेहड़ियों पर रेंट ब्रांच की टीम निगाह रखेगी। लेकिन, इससे पहले दुकानदार भी निगम को सहयोग करते हुए अपनी दुकान के आगे किसी प्रकार की रेहड़ी न लगने दें। संडे बाजार को एक दम से हटा पाना मुश्किल हैं लेकिन, इसका भी संडे बाजारियों और व्यापारियों के साथ एक मीटिग कर स्थायी समाधान निकाला जाएगा। अतिक्रमण हटाने का समय दिया जाएगा : एडीसी

एडीसी अभिजीत कपलिश ने कहा कि अतिक्रमणकारियों से जवाब तलब करने के साथ ही उनका पक्ष जाना जाएगा। इसके साथ उन्हें अतिक्रमण हटाने का समय दिया जाएगा। अगर इसके बाद भी कोई अमल नहीं करता है तो कार्रवाई तय है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!