संवाद सहयोगी, घरोटा: विधानसभा चुनावों को लेकर कुछ समय ही बाकी रह गया है। इसके चलते विभिन्न पार्टियों से चुनाव लड़ने वाले संभावित उम्मीदवारों ने वोटरों को लुभाने का प्रयास शुरू कर दिए हैं। भले ही अभी तक कई पार्टियों ने अपने उम्मीदवारों का एलान नहीं किया इसके बावजूद भी टिकट मिलने की संभावना को देखते हुए कई नेताओं वोटरों से राबता कायम करना शुरू कर दिया है। इस संबंध में जब इलाके की महिलाओं से नई सरकार व विधानसभा चुनाव को लेकर बात की गई तो उन्होंने अपने विचार इस प्रकार व्यक्त किए। राज्य को अनुभवी और दूरदर्शी राज नेताओं की जरूरत: प्रिसिपल मीनाक्षी

प्रिसिपल मीनाक्षी ने कहा कि पंजाब को अच्छे अनुभवी और दूरदर्शी राज नेताओं की जरूरत है, जो पंजाब की आर्थिकता को मजबूत बनाने के अतिरिक्त स्वास्थ्य सुविधाओं व शिक्षा का स्तर पर उठा सके। कस्बों में कालेज खोले जाएं। जिससे गांव की लड़कियां दूरदराज शहरों में पढ़ाई करने न जाए। महिलाओं की समस्याओं प्रति हो गंभीर: विजय लक्ष्मी

ग्रहणी विजय लक्ष्मी ने कहा कि आज के समय में घर चलाना बेहद मुश्किल हो गया है। ऐसी सरकार व प्रत्याशी चुनाव मैदान में चयन करना चाहिए जो महिलाओं की समस्या प्रति गंभीर हो। राजनेता लोगों की आवाज बन कर क्षेत्र के लोगों की बात मुख्यमंत्री तक पहुंचा कर अपने निर्वाचन इलाके की समस्याओं का हल कर सके। बिना प्रलोभन मतदान करें : रीमा भारद्वाज

रीमा भारद्वाज ने कहा कि इस बार विधानसभा चुनाव में भी सभी संकल्प लें कि चुनाव में अपने विवेक से निष्पक्षता के साथ बिना प्रलोभन मत दान करेंगे। इससे स्वस्थ लोकतंत्र की गरिमा को बना कर रखा जा सके। सरकार के निर्माण में महिलाएं निभाएं निर्णायक भूमिका: रेखा शर्मा

रेखा शर्मा ने कहा कि इस बार पंजाब का चुनाव बेहद रोचक होने वाला है कि। कई पार्टियों के प्रत्याशी आमने-सामने होंगे सभी महिलाओं को अपना मतदान बढ़ चढ़ कर करना चाहिए। इससे पंजाब में मजबूत सरकार को बनाया जा सके, जो राज्य को उन्नति के पथ पर अग्रसर कर सके। रोजगार के अवसर पैदा कर बेरोजगारी के खात्मे के लिए प्रयास करे।

Edited By: Jagran