संवाद सहयोगी, सुजानपुर : नगर कौंसिल सुजानपुर में राजनीति गर्मा गई है। कौंसिल की वार्डबंदी के फरमान आने के बाद राजनीतिक हलचल मच गई है। निवर्तमान अध्यक्ष और भाजपा नेता रूपलाल का वार्ड एससी आरक्षित हो गया है। मंगलवार को नगर कौंसिल में नई वार्डबंदी संबंधी नक्शा लगा दिया गया। नई वार्डबंदी के बाद भाजपा नेताओं में रोष है और सरकार पर कांग्रेस को फायदा पहुंचाने के आरोप लगाए हैं। भाजपा के वार्ड नंबर 8 से पार्षद सुरेंद्र मन्हास ने कहा कि सुजानपुर में पूरी तरह से नियमों को ताक पर रखकर अपने लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए वार्डबंदी की गई है। वार्ड की सीमाओं में तोड़फोड़ की गई है, सरकार चाहे कुछ भी कर ले लेकिन वह अपने इन मंसूबों में सफल नहीं होगी। भाजपा ने अपने इस 5 वर्ष के नगर कौंसिल के कार्यकाल में सुजानपुर में रिकॉर्ड तोड़ विकास कार्य करवाए हैं तथा बिना किसी भेदभाव के वार्ड का विकास कराया है।इसे असंवैधानिक वार्ड बंदी का जवाब सुजानपुर की जनता आने वाले कौंसिल चुनावों में देगी। गलत ढ़ंग से वार्डबंदी करने का लगाया आरोप

वहीं नगर कौंसिल के पूर्व अध्यक्ष राजकुमार गुप्ता ने भी वर्तमान कांग्रेस सरकार पर गलत ढंग से वार्डबंदी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि यह सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है। इसी बौखलाहट में ही सुजानपुर में मनमाने ढंग से वार्ड बंदी को किया गया है जो कि सरासर गलत है। भारतीय जनता पार्टी इसका विरोध करती है व सरकार से मांग करती है कि हमारी ओर से जो भी एतराज दिए जाए उस पर ध्यान देते हुए वार्ड बंदी को सही किया जाए।

वार्डबंदी से नहीं जीते जाते चुनाव : अविनाश डोगरा

नगर कौंसिल के उपप्रधान डॉ. अविनाश डोगरा ने नई वार्डबंदी को कांग्रेस की साजिश करार देते हुए कहा कि चुनाव वार्ड बंदी से नहीं जीते जाते। चुनाव लोगों के कार्य करके जीते जीते जाते हैं। भाजपा ने लोगों के कार्य की है तथा इस बार भी नगर कौंसिल चुनावों में भाजपा उम्मीदवार अपनी विजय पताका फहराएंगे। गलत ढंग से वार्ड बंदी कर कांग्रेस पार्टी चुनाव नहीं जीत सकती।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!