जागरण संवाददाता, नवांशहर

कोरोना से बचने के लिए जहां कोरोना प्रोटोकाल का पालन करना बेहद जरूरी है, वहीं पर प्रशासन की ओर से वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को अब तेज कर दिया गया है। बता दें कि 16 जनवरी से जिले में लोगों का टीकाकरण करना शुरू किया गया था। इसके तहत जनवरी में मात्र 1518 लोगों ने ही टीका लगवाया था, जबकि उस समय रोजाना 500 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था। डर व अफवाह के कारण बहुत से सेहत कर्मी व फ्रंटलाइन वर्कर टीका नहीं लगवा रहे थे।

इसके बाद फरवरी में 2940 लोगों ने टीका लगवाया और मार्च में 14,652 लोगों ने इसे लगवाया। वहीं अप्रैल के पहले आठ दिनों में 16,582 लोग टीका लगवा चुके हैं। इसके साथ अब तक जिले में 35732 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

उधर, वीरवार को जिले में कोरोना के 47 पाजिटिव केस सामने आए हैं। इसके साथ ही जिले में अब एक्टिव केसों की संख्या 450 पहुंच चुकी है। यह जानकारी सिविल सर्जन डा. जीके कपूर ने दी है।

उन्होंने बताया कि अभी तक जिले में कोरोना से 7708 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 7066 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं अभी तक जिले में 208 लोगों कोरोना से मौत हो चुकी है। अभी तक जिले में सेहत विभाग द्वारा 1,71,038 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं।

वीरवार को ब्लाक बलाचौर से 17, नवांशहर से 10, मुज्जफरपुर से 7, सुज्जों व मुकंदपुर से 4-4, सड़ोया से 3 तथा राहों व बंगा से 1-1 केस पाजिटिव आया है।

----------------

53 जगहों पर किया जा रहा टीकाकरण

सिविल सर्जन डा.जीके सिंह कपूर का कहना है कि टीकाकरण की प्रक्रिया को तेज कर दिया गया है। वर्तमान में जिले में 53 स्थानों पर टीकाकरण किया जा रहा है। इसे भविष्य में और बढ़ाया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील की है कि शर्त पूरी करने वाले सभी योग्य लोग टीका लगवाएं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप