जेएनएन, नवांशहर : देश मे बेरोजगारी 28 फीसद हो चुकी है, ऑटो मोबाइल सेक्टर की स्थिति खराब हो गई है। इसका परिणाम यह निकला है कि इस सेक्टर में नौकरियों के अवसर खत्म हो रहे हैं और कर्मचारियों की छंटनी हो रही है। ये बात सीटू की प्रेसिडेंट डॉ. हेमलता ने तीन दिवसीय कांफ्रेंस के उद्घाटन समारोह में कही। डॉ. हेमलता ने कहा कि देश में मंदी का दौर जारी है। इसका असर आम लोगों व मजदूर वर्ग पर रहा है। नौकरियों के अवसर कम होने से समस्या और गंभीर होती जा रही है। इस संकट के साथ-साथ भाजपा व आरएसएस अपनी सांप्रदायिक व फासीवादी नीतियां देश में लागू कर रही है। देश में आज अल्पसंख्यक, महिलाओं पर जुर्म हो रहे हैं। भाजपा के शासन काल में देश की एकता व अखंडता खतरे में हैं। अधिवेशन की शुरुआत पिछले तीन सालों में दिवंगत हुए नेताओं को दो मिनट का मौन रख कर श्रद्धांजलि दी गई। इससे पहले संगठन द्वारा खटकड़कलां में शहीद ए आजम भगत सिंह व अंबेदकर चौक में डॉ. भीमराव आंबेडकर को श्रद्धाजंलि दी गई। इसके बाद शहर में सीटू नेताओं द्वारा शहर के विभिन्न इलाकों में मार्च निकाला गया। इस दौरान रघुनाथ सिंह, जतिदर पाल, ऊषा रानी, सुच्चा सिंह, महा सिंह रौड़ा, बलबीर सिंह जाडला, राम सिंह नूरपुर, चंदर शेखर, तरसेम सिंह, महिदर सिंह समेत अन्य शामिल थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!