लखविदर सोनू, नवांशहर : जल्द ही केंद्र सरकार आम बजट पेश करने वाली है, जिससे लोगों को सरकार से बहुत उम्मीदें हैं। सरकार से पूरी उम्मीद है कि इस बार रोजगार देने वाला बजट पेश किया जाएगा। महंगाई पर भी रोक लगेगी। इस बारे में शहरवासियों ने अपनी राय दी।

बजट पर राम रायपुर निवासी बलजीत सिंह का कहना है कि सरकार को बजट में घरेलू सिलेंडर की कीमतें कम करनी चाहिए और साथ ही साथ लोगों को रोजगार देना व महंगाई पर रोक लगानी चाहिए। सरकार को बजट में कुछ ऐसा पेश करना चाहिए जिससे घरेलू सिलेंडर और महंगाई कम हो सके।

किसानों का कर्ज माफ हो: तरनजीत

नवांशहर निवासी तरनजीत सिंह बराड़ का कहना है कि सरकार को आम बजट में किसानों का कर्ज पूर्ण तौर पर माफ करना चाहिए। आम कारोबारियों के कर्ज माफ किए हैं, वैसे ही किसानों को आम बजट में कर्ज माफ की सुविधा मिलनी चाहिए और किसानों को फसलों के दाम बढि़या दिए जाएं, जिससे किसानों द्वारा किए खर्च पूरे हो सकें।

पेट्रोल-डीजल के दाम काम हो: रामलाल

गांव बरनाला कलां निवासी फौजी रामलाल का कहना है कि सरकार को बजट में नौजवानों के लिए नौकरी के साधन मुहैया करवाने चाहिए और साथ ही साथ पेट्रोल-डीजल के दामों को घटाकर 50/- तक लाया जाए। क्योंकि पेट्रोल-डीजल के दाम इतने बढ़ चुके हैं, जो आम लोगों की पहुंच से दूर हैं।

गेहूं स्टोर करने की व्यवस्था हो: सुरजीत

गांव अमरगढ़ निवासी किसान सुरजीत सिंह का कहना है कि केंद्र सरकार को धान और गेहूं रखने के लिए बजट में गोदामों की व्यवस्था करनी चाहिए, क्योंकि हर साल करोड़ों रुपये का धान और गेहूं इसलिए खराब हो जाता है क्योंकि इन्हें सुरक्षित रखने के लिए गोदामों का प्रबंध नहीं है। किसानों को उनकी फसलों के बढि़या दाम दिए जाएं, जिससे किसानों पर कर्ज न हो सके।

खेती के लिए मशीनरी सस्ती करनी चाहिए: अशोक

नवांशहर निवासी अशोक कुमार का कहना है कि सरकार आए दिन किसानों को पराली को आग लगाने से रोकती है। सरकार को चाहिए कि जो किसान पराली नहीं जलाते उन्हें सब्सिडी की तौर पर कम से कम धान की फसल का 500 रुपये प्रति क्विंटल दाम और देना चाहिए। क्योंकि सब्सिडी से बहुत ज्यादा भ्रष्टाचार फैल रहा है, इसके लिए किसानों को खेतीबाड़ी के साथ संबंधित मशीनरी को सस्ता करना चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!