संवाद सहयोगी, काठगढ़ : हेल्थ कैप्स फैक्ट्री के प्रबंधक और मजदूरों की आपसी सेटलमेंट को लेकर चल रहा टकराव दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। प्रबंधकों द्वारा कुछ कर्मचारी काम से निकाले गए थे और उनको प्रशासन ने वापस लेने की बातचीत भी की थी, लेकन वे सभी वापस नहीं लिए गए। इसी को शनिवार को कर्मचारियों ने पहले फैक्ट्री के गेट पर बैठक की और फिर गांव फतेहपुर में जनरल बाडी की बैठक की। बैठक में सीटू के पंजाब प्रधान कामरेड महासिंह रौड़ी, महासचिव पंजाब कामरेड रघुनाथ सिंह, राणा कर्ण सिंह सचिव कंडी संघर्ष कमेटी तथा कामरेड जसवंत सिंह सैणी नेता जिला सीटू ने भाग लिया। कामरेड रघुनाथ सिंह ने कहा कि सरमाएदारों के खिलाफ जंग को जारी रखा जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि हेल्थ कैप्स कंपनी के प्रबंधक कीरत कानूनों की धज्जियां उड़ा रहे हैं जिसे सहन नहीं किया जाएगा। कामरेड महासिंह रौड़ी ने कहा, बाहर निकाले गए कर्मचारी अगर 24 घंटे के बीच फिर नहीं रखे गए तो फैक्ट्री के खिलाफ जंग शुरू की जाएगी। महासिंह रौड़ी ने कहा, यह प्रबंधक गलतियां खुद करते हैं और आरोप सीटू पर लगाकर अपने आपको सच्चे साबित करना चाहते हैं। राणा करण सिंह ने कहा कि कोई भी फैक्ट्री के प्रबंधक मजदूरों के खिलाफ कानून का दुरुपयोग करेगा तो कंडी संघर्ष कमेटी उसका विरोध करेगी। मजदूरों को जोश के साथ-साथ होश को भी ध्यान में रखकर जंग लड़नी होगी। इस अवसर पर यूनियन के प्रधान जसविदर सिंह, सचिव जगदीश राम ने भी सभी का आभार व्यक्त किया और अनुशासन में रहकर संघर्ष करने को कहा। इस अवसर पर यूनियन के अन्य सदस्य व कर्मचारी शामिल थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!