योगेश मल्होत्रा बलाचौर : पिछले एक माह से तहसील में एसडीएम न होने के कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 13 अप्रैल को दीपक रोहिल्ला द्वारा चार्ज छोड़ने के बाद बलाचौर के एसडीएम का पद खाली पड़ा हुआ है। नवांशहर के एसडीएम को बलाचौर का एडिशनल चार्ज तो दिया गया है, लेकिन काम धीमी गति से हो रहा है। एसडीएम बलाचौर के पास ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेट का भी काम है। इस कारण आरसी और लाइसेंस के काम के लिए लोगों को इंतजार करना पड़ रहा है। नवांशहर के एसडीएम सप्ताह में एक या दो बार ही आते हैं। मगर यहां एसडीएम का नियमित होना जरूरी है, ताकि लोगों के काम समय पर हो सकें। शहरवासी सुरेंद्र कुमार, सूरज, परमिदर सिंह, धीरज, दीपक, सुनील कुमार, आकाशदीप सिंह, अमरीक सिंह, जगतार, कर्मजीत सिंह, तरलोचन सिंह, अजीत कौर, सुरिदर कौर, जोगिदर कौर, प्रिया, मोहनलाल व विमल कुमार ने बताया कि पिछले एक महीने से तहसील में एसडीएम न होने के कारण कई काम अटक गए और कई कामों में देरी हो रही है। लाइसेंस और आरसी के काम तो हो रहे हैं, लेकिन देरी से हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि एसडीएम कोर्ट में भी कई लोगों के केस चल रहे हैं। उनका कोई फैसला न आने के कारण भी लोग परेशान देखे जा सकते हैं। उधर, विधायक संतोष कटारिया ने कहाकि इस संबंध में मुख्यमंत्री भगवंत मान से मुलाकात की थी। उन्होंने जल्द एसडीएम लगवाने की बात कही है। लोगों को किसी भी तरह की समस्या नहीं आने दी जाएगी।

Edited By: Jagran