संवाद सहयोगी, नवांशहर: गांव दुर्गापुर के सरपंच सरवन सिंह ने डीसी के नाम एक शिकायत पत्र देते हुए गांव के पंचायत सदस्यों पर ब्लैकमेल करने और पंचायत की करोड़ों रुपए की प्रापर्टी बेचने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है। सरवन सिंह ने कहा कि वह पिछले ढाई साल से गांव दुर्गापुर के सरपंच हैं। जब से पंचायत बनी है पंचायत सदस्यों ने उनका साथ दिया और सभी प्रस्तावों पर सहमति जाहिर की। जिससे गांव में विकास कार्यो को तेजी से करवाए जा रहे थे।

परन्तु कुछ समय पहले से तीन पंचों द्वारा उन्हें अवैध कार्य करने के लिए ब्लैकमेल किया जा रहा है। पंचों द्वारा धमकी दी जा रही है कि यदि उन्होंने उनकी बात नहीं मानी तो वे अपना समर्थन लेकर गांव में प्रबंधक लगवा देंगे। इस संबंध में सरपंच की तरफ से जिला विकास और पंचायत अफसर को भी शिकायत दी जा चुकी है।

उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत दुर्गापुर की करोड़ों रुपए की जमीन गढ़शंकर रोड पर है। इसी जमीन को बेचने के लिए उक्त तीनों पंच मजबूर कर रहे हैं। वे जमीन बेचकर 20-20 लाख रुपए सभी में बांटने की मांग कर रहे हैं। साथ ही सरपंच को पंचायत की •ामीन पर पांच मरले की कालोनियां काट कर गांव के लोगों को बेचने के लिए भी मजबूर किया जा रहा है। सरपंच ने कहा कि उक्त पंचों ने गांव के लोगों से भी अवैध तौर पर पैसे की उगाही की है।

उन्होंने कहा कि तीनों पंचायत सदस्यों द्वारा रोज उन्हें ब्लैकमेल कर नशे की मांग भी की जा रही है। मना करने पर वे अपना समर्थन वापस लेने की बात करते है। रोज-रोज के ब्लैकमेल से तंग आकर उन्होंने जिला विकास और पंचायत अफसर को प्रबंधक लगाने के लिए दरखास्त दे दी है। साथ ही डीसी से मांग करते हुए उक्त पंचों के ़िखला़फ जरूरी कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

Edited By: Jagran