जागरण संवाददाता, नवांशहर : अयोध्या में श्री राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन को लेकर पांच अगस्त को जिलेभर के मंदिरों में धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, जिसको लेकर मंदिरों को दुल्हन की तरह सजाया गया है। मंदिरों में लड़ियां लगाई जा रही हैं। ऐसा लग रहा है कि इस बाद दीवाली अगस्त माह में ही आ गई है। लोगों का कहना है कि पांच अगस्त को दिवाली के तौर पर ही मनाएंगे क्योंकि भगवान राम 500 वर्ष के वनवास के बाद अपने घर को लौट रहे हैं। सुबह से मंदिरों में हवन यज्ञ का आयोजन किया जाएगा। शाम पांच बजे सभी मंदिरों में आरती की जाएगी, जिसमें कोरोना को देखते हुए कम से कम लोग शामिल होंगे। सिद्ध नर्देशवर महादेव मंदिर की ऋषि कुटिया के आचार्य स्वामी ऋषि राज ने बताया कि सुबह 8 बजे से लेकर 9 बजे तक अयोध्या में शिलान्यास होने पर महामंत्र का जाप किया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!