संवाद सहयोगी, काठगढ़ : जिले में विभिन्न एजेंसियों ने धान की खरीद शुरू कर दी गई है, लेकिन दशहरे को मंडियों में खरीद नहीं हुई। पिछले कई दिन से धान लेकर किसान पहुंचना शुरू हो गए थे। खरीद न होने के कारण किसानों को रखवाली के लिए मंगलवार को मंडी में ही रहना पड़ा। प्रशासन द्वारा सात अक्टूबर को धान की खरीद की शुरुआत की थी। किसान सतनाम सिंह व किसान महिदर सिंह ने बताया कि उनका दशहरा तो तब होगा जह उनकी फसल बिक जाएगी और भुगतान उनके पास आ जाएगा। मंडी में धान लेकर आए थे, लेकिन उसकी खरीद नहीं हो पाई है। धान को छोड़ नहीं जाया जा सकता था। इसलिए वे मंडी में ही धान की देखरेख कर रहे हैं। किसान मलकीत सिंह कहा कि कैसे दशहरा मनाएं। जब तक धान की बिक्री नहीं होती। तब तक उन्हें यहीं इंतजार करना होगा। चार महीने की मेहनत के बाद यह फसल तैयार हुई है। इसे यूं ही छोड़ कर नहीं जाया जा सकता है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!