जागरण संवाददाता, नवांशहर : अवैध शराब मामले में राहों नगर कौंसिल के प्रधान हेमंत रंदेव को अदालत ने शनिवार को अग्रिम जमानत दे दी। इस प्रकार अब शैलर के तीनों पार्टनर को अदालत से अग्रिम जमानत मिल चुकी है। अकाली दल के जिला शहरी प्रधान शंकर दुग्गल के अलावा शैलर के पार्टनर गौरव चोपड़ा भी मामले में नामजद हैं। उन्हें भी जमानत मिल गई है। पुलिस ने गांव घक्केवाल के शैलर से छह अप्रैल को घक्केवाल के शैलर से 805 पेटी अवैध शराब बरामद की थी। छह तारीख को दर्ज किए मामले में राहों के नगर कौंसिल प्रधान हेमंत रंदेव को नामजद किया था। इसके बाद पुलिस ने शैलर के दोनों पार्टनर शंकर दुग्गल व गौरव चोपड़ा को भी नामजद किया। बुधवार को शंकर दुग्गल ने अग्रिम जमानत की याचिका लगाई थी। अदालत ने उन्हें जमानत दे दी थी।

जानकारी से पहले ही किया था इन्कार

नगर कौंसिल प्रधान हेमंत रंदेव व शंकर दुग्गल ने पहले साफ कर दिया था कि उन्हें पता ही नहीं था कि शराब शैलर में रखी जा रही है। तीसरे पार्टनर गौरव चोपड़ा ने कहा था् कि शराब उनकी दुकानो को किराये पर लेने वाले शराब ठेकेदारों की है। उन्होंने शैलर में कुछ समय के लिए शराब रखने को कहा था। अपने नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज होने पर अकाली दल जिले में मोर्चा खोल चुकी है। इसकी जांच अब लुधियाना के एआइजी क्राइम मामले की जांच करेंगे।

आठ लोगों के खिलाफ दर्ज है मामला

थाना नवांशहर सदर की पुलिस ने अब तक आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इसमें नगर कौंसिल प्रधान हेमंत रंदेव, शिअद जिला शहरी प्रधान शंकर दुग्गल, कारोबारी गौरव चोपड़ा, ट्रक ड्राईवर बलविदर सिंह, क्लीनर मान सिंह उर्फ पप्पू व ट्रक मालिक रणजोध सिंह शैंकी, ठेकेदार अशोक कुमार व हनी चड्ढा शामिल हैं।

Posted By: Jagran