जागरण संवाददाता, नवांशहर

पंजाब स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा सरकारी स्कूलों में दाखिला मुहिम को तेज करने के लिए नुक्कड़ नाटकों का आयोजन किया जा रहा है, जिसे गांवों में भरपूर सहयोग मिल रहा है। इस संदर्भ में जिला नुक्कड़ नाटक टीम ने गांव चांदपुर रुड़की में नुक्कड़ नाटक का मंचन किया। इस दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित हुए। इस दौरान नुक्कड़ नाटक में शिक्षा विभाग की उपलब्धियों और सरकारी स्कूलों में मिलने वाली सुविधाओं को देख कर मौके पर ही कई अभिभावकों ने अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों से हटा कर सरकारी स्कूलों में दाखिल करने का मन बनाया।

बता दें कि शिक्षा विभाग द्वारा नुक्कड़ नाटकों, स्किटों, मोनो एक्टिंग, अंग्रेजी में वार्तालाप और फ्लेक्स व पोस्टर मुहिम के जरिये अभिभावकों को अपने बच्चे सरकारी स्कूलों में दाखिल करवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। स्कूलों में पढ़ते एलकेजी से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के अभिभावकों को प्रेरित करने के लिए जिला इंटरनेट मीडिया टीम द्वारा जिला नुक्कड़ नाटक टीम के मंचन की गांव चांदपुर रुड़की के लोगों ने भरपूर सराहना की।

इस मौके पर अभिभावकों और गांव वासियों को सुखपाल दास मुख्य अध्यापक, मास्टर महिदर सिंह और अमित ने संबोधित किया। उन्होंने कोविड-19 की हिदायतों के मद्देनजर बच्चों की सेहत संभाल का ध्यान रखने के साथ ही अभिभावकों को बच्चों की रेगुलर पढ़ाई के लिए प्रेरित किया। उन्होंने अभिभावकों से कहा कि वे अपने बच्चे अधिक से अधिक सरकारी स्कूलों में दाखिल करवा कर सरकारी सुविधाओं का लाभ लें। सरकारी स्कूलों में स्वागत जिदगी नाम का विषय शुरू किया गया है, जिसके अंतर्गत बच्चों को विरासत और पृष्ठभूमि के साथ जोड़ा जाना है, क्योंकि आज के समय में बच्चे नैतिक मूल्यों से दूर होते जा रहे हैं, जोकि समाज के लिए घातक है।

इस अवसर पर अभिभावकों ने भी कहा कि वे अपने बच्चे अधिक से अधिक सरकारी स्कूलों में दाखिल करवाएंगे और सरकारी सुविधाओं का लाभ लेंगे।

इस अवसर पर गुरदयाल मान इंटरनेट मीडिया को-आर्डिनेटर कम नुक्कड़ नाटक टीम इंचार्ज, शैली जैरथ, जसबीर कौर, आशु कालिया, बलजिदर कौर, रुखसाना आदि उपस्थित थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप