संवाद सहयोगी, काठगढ़ : दाना मंडी काठगढ़ इन दिनों धान की आमद सभी मंडियों से आगे चल रही है। धान की आमद तेज और लिफ्टिंग सुस्तक होने के कारण किसानों को बोरियां उतारने की भी जगह नहीं मिल पा रही है। दैनिक जागरण ने शुक्रवार को बाद दोपहर दाना मंडी का दौरा किया। एक एजेंसी के मैनेजर परविदर कुमार भागड़ी ने बताया कि कि 1.72 लाख बोरी आमद हो चुकी है और लिफ्टिग भी 1.37 लाख बोरी हो गई है। परन्तु मंडी में 35 हजार बोरी पड़ी है। अब धान रिलीज आर्डर मिलने पर ही उठाया जा सकता है। राइस मिल की भी लिमिट पूरी हो रही है। वहां पर बैठे किसान बाबा दीदार सिंह, महाराज सिंह पनियाली तथा प्रेम कुमार मंड आदि ने बताया कि मंडी का फड़ बहुत छोटा है पिछले 20 साल से यही सुनते आ रहे हैं कि इसे बड़ा किया जा रहा है लेकिन उम्मीद की किरण की किरण भी नजर नहीं आ रही है। मंडी से बाहर घास आदि पर पॉलिथिन बिछाकर धान को उतारा जा रहा है। हर किसान के तीन से चार दिन मंडी में लग रहे हैं।

दाना मंडी में आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान सुभाष आनंद ने बताया कि लिफ्टिग की वजह से मंडी में जगह नहीं है। दुकानदार भी क्या कर सकता है। दुकानदारों को रिलीज आर्डर का इंतजार है, शीघ्र ही 35 हजार बोरी उठाई जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!