जागरण संवाददाता, नवांशहर

कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोकने के बारे में दो सदस्यीय केंद्रीय टीम ने जिला प्रशासन द्वारा किए गए प्रबंधों के बारे में जानकारी लेने के लिए डीसी डा. शेना अग्रवाल सहित सेहत अधिकारियों से भी बैठक की। इस दौरान डीसी ने केंद्रीय टीम के सदस्यों डा. रितेश गुप्ता व डा. रमेश चंद्र को बताया कि सैंपलिग, संपर्क ट्रेसिग, टीकाकरण, अस्पतालों में मरीजों की स्थिति व बेडों की उपलब्धता, एंबुलेंस, होम क्वारंटाइन, कंटेनमेंन जोन, डाटा प्रविष्टि आदि प्रबंधों की जानकारी दी। जिस पर केंद्रीय टीम के सदस्यों ने संतोष जताया। उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा बिना मास्क वाले व्यक्तियों की करवाई जा रही सैंपलिग के काम की सराहना की।

इस दौरान डीसी ने टीम को बताया कि जिले में कोविड की दूसरी लहर बेहद तेजी के साथ बढ़ी थी। मगर, अब उस पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है। जिले में पहले के मुकाबले मामलों में काफी कमी आई है। प्रशासन और सेहत विभाग सैंपलिग व टीकाकरण के द्वारा इस का फैलाव रोकने के लिए दिन-रात काम कर रहा है।

सिवल सर्जन डा. गुरदीप सिंह कपूर ने बताया कि जिले में 53 स्थानों पर टीकाकरण के अलावा मोबाइल टीमों की तरफ से प्रतिदिन कई जगहों पर कैंप लगा कर भी कोविड वैक्सीन लगाई जा रही है।

इस मौके पर एडीसी आदित्य उप्पल, एसडीएम बंगा विराज तिड़के, एसडीएम नवांशहर जगदीश सिंह जौहल, एसडीएम बलाचौर दीपक रोहेला, सहायक आयुक्त दीपजोत कौर, जिला परिवार भलाई अधिकारी डा. जतिदर सिंह, जिला सेहत अधिकारी डा. कुलदीप राय, जिला एपीडीमोलाजिस्ट डा. जगदीप सहित समूह एसएमओ और कई सेहत अधिकारी उपस्थित थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप