मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जेएनएन, नवांशहर : जिले में चल रही सेहत सेवाओं का जायजा लेने के लिए एडीसी अनुपम कलेर ने जिला सेहत कमेटी के साथ बैठक की। इसमें सेहत विभाग को समय पर लक्ष्य पूरा करने के लिए कहा गया। सेहत विभाग को सरकारी सेहत संस्थाओं में आने वाले मरीजों का इलाज अच्छे ढंग से करने के लिए कहा गया। सिविल सर्जन डॉ. आरपी भाटिया ने बताया कि मुख्यमंत्री कैंसर राहत फंड स्कीम तहत जून महीने में 60 आवेदन प्राप्त हुए हैं जिसमें 38 मरीजों को 48 लाख रुपये के मूल्य का कैशलेस इलाज दिया गया है। मुख्यमंत्री कैंसर राहत फंड तहत पंजाब में कोई भी कैंसर का मरीज सरकार द्वारा चलाई गई इस योजना तहत कैंसर संस्था में 1.50 लाख रुपये का कैशलेस इलाज करवा सकता है। जिले में अब तक नेशनल वायरल हेपेटाइटस कंट्रोल प्रोग्राम तहत 1560 मरीजों का इलाज किया गया है। यह इलाज सभी सरकारी अस्पतालों में निशुल्क किया जाता है। उन्होंने बताया कि जिले में जुलाई 2017 से जून 2019 तक मेडिकल स्टोरों की जांच की गई। जांच के दौरान मेडिकल स्टोरों से 178 सैंपल लिए गए। फूड सेफ्टी और स्टैंडर्ड एक्ट तहत जिले में 1850 रजिस्ट्रेशन हुई है जिसमें 543 के लाइसेंस जारी कर दिए गए हैं। कोटपा एक्ट तहत की गई कार्रवाई में जून महीने में 170 चलान किए गए थे और उनसे 11150 रुपये जुर्माना किया गया था। बैठक में गर्भवती महिलाओं और नवजात बच्चों के निशुल्क टीकाकरण बारे में भी बताया गया। बैठक में जिला टीकाकरण अफसर डॉ. दविदर ढांडा, जिला परिवार भलाई अफसर डॉ. सुखविदर सिंह, जिला एपिडोमोलोजिस्ट डॉ. जगदीप, समूह एसएमओ व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!