संवाद सहयोगी, राहों : जिला शिकायत निवारण सेल के चेयरमैन व कांग्रेस नेता अश्वनी जोशी ने लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की हार की जिम्मेदारी लेते हुए अपने चेयरमैन पद से त्यागपत्र दे दिया है। उन्होंने बताया कि लोकसभा चुनाव के दौरान विभिन्न राजनीतिक पाíटयों की ओर से शराब व पैसे बांटे गए, जिस कारण कांग्रेस की हार हुई है। उन्होंने अपना इस्तीफा चेयरमैन पंजाब एसएमएस संधू को सौंपा है। अश्वनी ने कहा कि इस्तीफे के बाद भी वह पार्टी में एक वर्कर के तौर पर काम करते रहेंगे। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने विधानसभा हलका नवांशहर में अकाली दल से भले ही 5300 की लीड हासिल की, लेकिन राहों में पार्टी 907 वोट से पिछड़ गई। कुछ दिन पहले ही नगर कौंसिल के दफ्तर में कांग्रेसियों और अकालियों के बीच जमकर हंगामा भी हुआ था। उसके बाद चुनाव से पहले नगर कौंसिल के प्रधान हेमंत रंदेव के शैलर में मिली अवैध शराब को लेकर भी दोनों पक्ष एक दूसरे पर तरह-तरह के आरोप लगाते रहे, लेकिन अकाली नेता हेमंत रंदेव ने चुनाव में अपनी साख बचाए रखी और कुल 11 बूथ में से अकाली दल को 3077 वोट दिलवाई। दूसरे नंबर पर बसपा को 2185 वोट और तीसरे नंबर पर आई कांग्रेस को 2170 वोट मिले हैं। इन्हीं कारणों से अश्वनी जोशी ने इस्तीफा दे दिया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!