संवाद सहयोगी,बलाचौर: अपनी मांगों को लेकर पिछले लंबे समय से संघर्ष कर रहे मेडिकल प्रैक्टिशटरों को पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने जल्दी ही उनकी मांगों को पूरा करने का भरोसा दिया है। एसोसिएशन के जिला प्रधान कश्मीर सिंह ढिल्लों ने बताया कि उन्होंने अपनी मांगों को लेकर 21 अक्ठूबर को जत्थेबंदी के पंजाब प्रधान धन्ना मल्ल गोयल के नेतृत्व में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की रिहायश का घेराव किया था । उस समय जत्थेबंदी के नेताओं के साथ मुख्यमंत्री की तरफ से मीटिग कर मांगों संबंधी विचार-विमर्श करने का समय दिया गया था। 25 अक्टूबर को चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री के साथ जत्थेबंदी के नेताओं की विशेष मीटिग हुई, जिसमें उनकी जत्थेबंदी को मुख्यमंत्री की तरफ से विश्वास दिलाया कि कुछ ही दिनों में सेहत मंत्री और लीगल राय जानने के उपरांत विधान सभा चुनावों से पहले जत्थेबंदी की मुख्य मांगों को पूरा कर दिया जाएगा। इस मौके पर पंजाब के चेयरमैन दिलदार सिंह मीटिग में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि यदि चुनावों से पहले कांग्रेस सरकार ने कोई हल न ढूंढ़ा, तो आने मतदान में उसका डटकर विरोध किया जाएगा। इस मौके पर उप प्रधान रशपाल माहल, धर्मजीत जनरल सचिव, टेक चंद चेयरमैन, यशपाल शर्मा जिला मेंबर, विमल, कुलबीर, बलवीर चंद, देस राज, गुरविदर, विजय गुरु, सतपाल और तजिदर जोत ब्लाक बलाचौर प्रधान उपस्थित हुए।

Edited By: Jagran