जेएनएन, कोटइसेखां [मोगा]। बिचौलिए की बातों में आकर बिना रिश्ता किए श्री मुक्तसर साहिब के गांव बधाइयां का दूल्हा बरात लेकर मोगा जिले के कस्बा कोटइसेखां पहुंच गया। जब लड़की वालों को इस बात की भनक लगी तो वे भड़क उठे। विवाद बढ़ता देख बरात में आए लोग इधर-उधर हो गए। खुद को दूल्हे का भाई बताने वाले एक युवक को लड़की के परिवार ने पकड़ लिया।

गांव बधाइयां से रविवार सुबह करीब नौ बजे बरात कोटईसे खां कस्बे में पहुंच गई। बरात में करीब 20 लोग शामिल थे। दूल्हे और परिवार को लड़की के गांव चिरागशाह वाला का रास्ता पता नहीं था। ऐसे में वे दोपहर 12 बजे तक कोटइसे खां में ही घूमते रहे।

बहुत देर तक इंतजार करते देख कुछ लोगों ने उनसे बातचीत की तो बरातियोंं ने बताया कि गांव चिरागशाह वाला के एक परिवार की लड़की की शादी के लिए आए हैं, लेकिन रास्ते की पूरी जानकारी नहीं है। इसी बीच किसी ने लड़की के परिवार को इस बात की जानकारी दे दी। लड़की का परिवार भी कोटईसे खां पहुंच गया। बात हाथापाई तक पहुंच गई। लड़की के परिवार ने उन्हें बदनाम करने के आरोप लगाए।

बताया जा रहा है कि दूल्हे का मामा ही बिचौलिया था। वह लड़की के परिवार का भी करीबी है। उसकी गलती के कारण ही दोनों परिवारों के बीच गलतफहमी पैदा हुई। लड़का बरात लेकर आ गया, जबकि लड़की के परिवार का कहना था कि उन्होंने कोई रिश्ता ही नहीं किया। वे तो खेतों में धान की रोपाई के काम में व्यस्त हैं। जब दोनों परिवार हाथापाई कर रहे तो बिचौलिया पत्नी को लेकर वहां से फरार हो गया।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!