संवाद सहयोगी, श्री मुक्तसर साहिब

जिले में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ कोरोना मरीजों का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। जिस कारण प्रशासन में चिता पाई जा रही है। प्रशासन द्वारा लगातार लोगों को जागरुक करने तथा पाबंदियों के बावजूद भी प्रशासन कोरोना की चैन को तोड़ने में कामयाब नहीं हो पा रहे है।

सिविल सर्जन डॉ. हरि नारायण ने बताया कि वीरवार को 220 लोगों के सैंपलों की रिपोर्ट आई है। जिसमें से 213 के सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है जबकि सात लोगों की रिपोर्ट पॉजोटिव आई है। पॉजोटिव मरीजों में तीन मरीज मुक्तसर के, एक गांव हुस्नर, एक गिद्दड़बाहा, एक शाम खेड़ा और एक मरीज गांव भगवानपुरा का है। उन्होंने बताया कि सभी मरीजों को आईसोलेट किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि वीरवार को नौ मरीजों को ठीक होने के उपरांत छुट्टी दे दी गई। सिविल सर्जन ने बताया कि अब तक जिले में कुल 14886 लोगों के कोविड सैंपल लिए गए है। जिसमें से 14324 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है तथा 270 कोरोना के मरीज पाए गए है।

401 लोगों के रिपोर्ट का इंतजार

सिविल सर्जन ने बताया कि 228 मरीज ठीक होने के उपरांत घर चले गए तथा दो महिलाओं की कोरोना से मौत हो गई है। डॉ. सिंह ने बताया कि अभी भी कोरोना के 40 केस एक्टिव है। उन्होंने बताया कि वीरवार को 184 अन्य लोगों के सैंपल लिए गए हैं तथा अब 401 लोगों के सैंपलों की रिपोर्ट आनी बाकी है।

कोरोना से बचाव के लिए सावधानी जरूरी

सिविल सर्जन ने लोगों को अपील की है कि वह कोरोना से बचाव के लिए मुंह पर मास्क, हाथों को बार-बार धोएं और सैनिटाइजर अवश्य करें। सार्वजनिक स्थानों पर जाने से बचें। शारीरिक दूरी बनाए रखें ताकि कोरोना वायरस की चैन को तोड़ा जा सके। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस की अभी तक कोई भी दवाई नहीं बनी है। इसलिए हमें कोरोना वायरस के प्रति सुचेत रहना चाहिए। अपना तथा अपने परिवार का पूरा ख्याल रखना चाहिए। बिना किसी जरूरी कार्य के घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। उन्होंने लोगों को अपील की है कि वह प्रशासन द्वारा जारी हिदायतों का पालन करें ताकि वह स्वयं तथा अपने परिवार को वायरस से बचा सकें।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!