जागरण संवाददाता, श्री मुक्तसर साहिब : वेतन में हो रही देरी को लेकर चौथे दिन भी बिजली कर्मियों ने मंडल दफ्तर के बाहर प्रदर्शन किया। उन्होंने सरकार व मैनेजमेंट के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। दोपहर को कर्मचारियों को सूचना मिली कि वेतन जारी कर दिया गया है, इसके बाद वे शांत हुए।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि पावरकॉम की ओर से जानबूझकर कर्मचारियों के वेतन को रोका गया है। उन्होंने कहा कि बिजली मुलाजमों का वेतन सबसे पहले रिलीज होता था, लेकिन सरकार की गलत नीतियों के कारण मुलाजिमों के वेतन देने के लिए खजाना खाली होने का ढिढोरा पीटा जा रहा है। पंजाब सरकार बकाया पे स्केल तथा डीए की अदायगी भी नहीं कर रही। मुलाजिमों के वेतन में से दो सौ रुपये की कटौती की जा रही है। कर्मियों ने बताया कि सरकार ने संघर्ष के आगे झुकते हुए पांच दिसंबर को वेतन रिलीज कर दिया गया है। साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि यदि आगे से ऐसा किया गया तो वह संघर्ष को तीव्र करेंगे। इस मौके पर बलजीत सिंह, बलजिदर शर्मा, बलजीत सिंह कृपालके, नछत्तर सिंह, बसंत सिंह, सुखपाल, हरिदर सिंह, गुरमीत सिंह, प्रधान गुरदीप सिंह, नरिदर सिंह, रणजीत सिंह, बूटा सिंह, जोगिदर सिंह आदि उपस्थित थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!