संवाद सहयोगी, श्री मुक्तसर साहिब

कुल ¨हद खेत मजदूर यूनियन के नेताओं ने अपनी मांगो की पूर्ति के लिए शुक्रवार को यूनियन के प्रांतीय उपाध्यक्ष गुरनाम ¨सह फरीदकोट व जिलाध्यक्ष हर¨बदर ¨सह शेरांवाली के नेतृत्व में बीडीपीओ कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया। उन्होंने राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। प्रदर्शन के उपरांत मजदूरों ने राज्य सरकार के नाम बीडीपीओ को ज्ञापन भी सौंपा।

नेताओं ने कहा कि राज्य सरकार की घटिया कारगुजारी के कारण गरीब दिन प्रति दिन गरीब होता जा रहा है। सरकार की नीतियों के कारण अमीर और अमीर हो रहा है। राज्य सरकार ने चुनाव से पहले मजदूरों से किए हुए वायदे पूरे नहीं किए हैं। मजदूर मांगो को अनदेखा किया जा रहा है। जिस कारण मनरेगा मजदूरों व खेत मजदूरों की हालत बदतर होती जा रही है। मजदूरों ने राज्य सरकार से मनरेगा कानून को लागू करने के लिए अलग मशीनरी स्थापित करने, दिहाड़ी छह सौ रुपये करने, वर्ष में 250 दिन कार्य देने, ग्रामीण मजदूरों के कर्ज माफ करने, महंगाई पर रोक लगाने, डिपो के माध्यम से सस्ते दाम पर राशन मुहैया करवाने, बने राशन कार्ड काटने बंद करने, काटे गए कार्ड बहाल करने, बेघरे लोगों को दस-दस मरले के प्लाट व तीन तीन लाख रुपये ग्रांट देने, स्वच्छ पेयजल मुफ्त मुहैया करवाने, विधवा, बुढ़ापा व दिव्यांग पेंशन तीन हजार रुपये मासिक करने, पेंशन समय पर देने, बराबर काम बराबर वेतन कानून लागू करने, पंचायती जमीन का तीसरा हिस्सा कानून अनुसार दलितों को सहकारी सोसायटी बनाकर देने, बिना शर्त बिजली बिल माफ करने, शिक्षा पर स्वास्थ्य सुविधाओं का प्रबंध करने, दलितों पर सामाजिक व पुलिस जबर बंद करने, रहते हकदारों को शौचालय बनाकर देने की मांग की।

इस मौके पर बूटा ¨सह संगराना, जंगीर ¨सह, मेजर ¨सह, सोहन ¨सह, सुखदेव ¨सह, मलकीत ¨सह, बूटा ¨सह, नीलू ¨सह, सुरजीत कौर, जंगीर ¨सह, गुरदेव कौर, गोलू ¨सह, ¨छदा ¨सह आदि भी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!