संवाद सहयोगी, श्री मुक्तसर साहिब

मिड-डे मील वर्कर्स यूनियन की तरफ से जिला प्रधान रमनजीत कौर की प्रधानगी में गुरु गोबिद सिंह पार्क में बैठक हुई। इसमें जिला महासचिव राजविदर कौर ने बतया कि मासिक बैठक में जिला जत्थेबंदी के पुनर्गठन पर विचार किया गया तथा जल्द ही एकत्रित होकर इस कार्य को पहल के आधार पर पूरा करने का फैसला लिया गया।

बैठक में मिड-डे मील वर्कर्स को पेश आ रही समस्याओं के बारे में विचार विमर्श के उपरांत जिला शिक्षा अधिकारी मुक्तसर से मिलने का फैसला किया गया। जिला कमेटी नेता जिला शिक्षा अधिकारी मलकीत सिंह को मिले। नेताओं ने उनके ध्यान में लाते हुए कुछ स्कूलों के मुखियों की तरफ से मिड-डे मील वर्कर्स को स्कूलों में गर्मियों की छुट्टियों के बावजूद बुलाया जा रहा है, जबकि इस दौरान कोई वेतन नहीं दिया जाता। जिला शिक्षा अधिकारी मलकीत सिंह की तरफ से मौके पर ही स्कूल मुखियों को मिड डे मील वर्करों को गर्मी की छुट्टियों में स्कूल न बुलाने के आदेश दिए।

नेताओं ने कहा कि अगर किसी अनाज बांटने के कार्य के बिना किसी अन्य कार्य के लिए स्कूल मुखियों की तरफ से स्कूलों में वर्करों को बुलाया गया तो जत्थेबंदी की तरफ से इसका विरोध किया जाएगा।

इस मौके पर राजा सिंह भुलेरिया, सरबजीत कौर, किरणदीप कौर, सरोज रानी, मनजीत कौर, सुमनदीप, सुनीता रानी, तेज कौर, जसविदर कौर, सतीशरानी तथा दीपक आदि उपस्थित थे।

-------------------- विधायक वड़िग ने कोरोना मरीजों के लिए भेजे पांच कार्डिक मानीटर

संवाद सूत्र, गिद्दड़बाहा (श्री मुक्तसर साहिब)

विधायक अमरिदर सिंह राजा वड़िग द्वारा सिविल अस्पताल में दाखिल कोरोना मरीजों की सुविधा लिए भेजे गए पांच कार्डिक मानीटर नगर कौंसिल के प्रधान नरिंदर मुंजाल बिटा अरोड़ा द्वारा सिविल अस्पताल के इंचार्ज डा. दीपक राय तथा नोडल अधिकारी डा. धरिदर गर्ग को सौंपी गई। उनके साथ फार्मेसी अधिकारी अजय गोयल के अलावा एनजीओ कोआर्डिनेटर बबलू जुनेजा, शहरी प्रधान सन्नी ग्रोवर, बिदर बांसल तथा जयदेव भी हाजिर थे।

डा. दीपक राय व डा. धरिदर गर्ग ने बताया कि यह कार्डिक मानीटर मरीजों के इलाज लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होंगे। इससे मरीजों के ब्लड प्रेशर, आक्सीजन आदि का लेवल की जानकारी मिलेगी तथा उस अनुसार मरीज का सुचारु ढंग से इलाज किया जा सकेगा। उन्होंने ने विधायक का धन्यवाद भी किया।

बिटा ने कहा कि वड़िग द्वारा समय समय कोरोना से प्रभावित मरीजों की सुविधा के लिए किए जा रहे प्रयासों की लड़ी अधीन करीब 2.5 लाख रुपये की लागत से पांच कार्डिक मानीटर भेजे गए।

Edited By: Jagran